loading...

कोचिंग वाले बच्चो की माँ को चोदा

प्रेषक : अंश गुप्ता

हैल्लो दोस्तों मेरा नाम अंश गुप्ता है और में फरीदाबाद में रहता हूँ। मेरी हाईट 5.5 इंच है और मेरी उम्र 21 साल और रंग गोरा है। दोस्तों में आपको एक रियल स्टोरी सुनाने जा रहा हूँ जो की मेरी ज़िंदगी का सबसे हसीन पल था जब मैंने पहली बार किसी को चोदा था वो भी इतनी सेक्सी औरत को जो कि एक हिरोईन से कम नहीं। यह इस साल जून महीने की बात है मैंने दो बच्चो को घर पर कोचिंग देना शुरू किया एक का नाम था दिनेश जो कि 3rd क्लास में पड़ता था और दूसरे का नाम था आरती जो 2nd क्लास में पड़ती थी उनकी एक माँ थी जो हद से ज्यादा सेक्सी थी।

उसका नाम था मोना उसका फिगर 34-26-36 के आसपास होगा वो बहुत सेक्सी और सुंदर औरत थी उसको देखते ही समझो मेरा लंड खड़ा हो जाता था और उसे चोदने का बहुत मन करता था लेकिन मुझे समझ नहीं आ रहा था कि में बात कहाँ से शुरू करूं। दोस्तों मेरा हमेशा से एक सपना था कि में किसी के साथ सेक्स करूं, किसी की चूत में अपना लंड घुसाऊँ लेकिन मुझे यह मौका आज तक नसीब नहीं हुआ था और मैंने सोचा भी नहीं था कि जिन बच्चों को में कोचिंग पड़ाने जा रहा हूँ उन्ही की माँ को में चोदूंगा। फिर जब इस साल जून में मैंने कोचिंग पड़ाना शुरू किया तो कोचिंग का टाईम 7.30 से 9 बजे तक था जो कि सेक्स करने का सबसे अच्छा टाईम होता है। मैंने वैसे तो बहुत सारी ब्लू फिल्म देखी है लेकिन कभी सेक्स नहीं किया था लेकिन यह मौका मुझे मोना ने दिया मोना मेरी ज़िंदगी में एक परी की तरह आई और अपनी चूत देकर मुझे रोज़ खुश करने लगी।

मोना बहुत सेक्सी सी औरत है जो ज्यादातर टाईट सलवार सूट पहनती है और उसकी चूची भी बड़ी टाईट और मोटी लगती है और उसकी ब्रा हमेशा दिखती रहती थी। मुझे कोचिंग पड़ाते हुए 10-15 दिन हो चुके थे और में धीरे धीरे मोना की तरफ आकर्षित होता जा रहा था और मुझे भी ऐसा लगता था कि मोना भी मेरी तरफ आकर्षित हो रही है। 10-15 दिन में मैंने मोना के पति को एक बार भी नहीं देखा था। वो शायद बहुत लेट आता था लेकिन मैंने उसकी फोटो देखी थी मोना के साथ जो उनके कमरे की दीवार पर लगी हुई थी। मोना का पति देखने में बहुत काला था और उम्र में भी मोना से बहुत बड़ा लगता था। फिर क्या था मैंने इसी मौके का फायदा उठना चाहा और धीरे धीरे मोना को घूर घूरकर देखता रहता था और वो भी स्माईल पास करती थी। मानो ऐसा लगता कि जितना में बेकरार हूँ उसे चोदने के लिए वो भी उतना ही तड़प रही हो मुझसे चुदवाने के लिए।

फिर जिस टाईम में कोचिंग पड़ाने उनके घर जाता था मोना उसी टाईम नहाने जाती थी और नहाकर वो बच्चो के कमरे में आती थी और वहीं ड्रेसिंग टेबल थी जिसमे देखकर वो अपने बाल बनाती थी और में उसे देखता रहता था और वो भी कांच से मुझे बीच बीच में देखती रहती थी। फिर में पूरी पूरी रातभर उसके बारे में सोचता रहता था। फिर मैंने उसे एक दिन फनी मैसेज किए और उसके मैसेज का इंतज़ार किया और वो भी मुझे मैसेज करने लगी फिर धीरे धीरे मैंने उसे डबल मीनिंग मैसेज करने शुरू कर दिए और उसने भी ऐसा ही किया।

मजेदार कहानी:  मम्मी ने किरायेदार से चूत चुदवाई

तभी मानो कि वो अब चुदने ही वाली थी मुझसे। फिर एक दिन मैंने सोच लिया कि उससे बात करके ही रहूँगा और फिर अगले दिन मैंने ऐसा ही किया जब में कोचिंग पड़ाने गया तो मैंने मोना से बात की में उन्हे भाभी जी कहता था। तभी मैंने उनसे कहा कि आप बहुत सुंदर लगती हो और इससे भी सुंदर आप तब लगोगी जब आप साड़ी पहनोगी। तभी उसने हल्की सी स्माईल की मैंने भी स्माईल की और उससे पूछा कि क्या आप मुझसे फ्रेंडशिप करोगी? तभी उसने हाँ कर दी। तो मैंने कहा कि क्या फ्रेंड की बात मनोगी? वो बोली कौन सी बात? फिर मैंने कहा कि में आपको साड़ी में देखना चाहता हूँ। तभी वो बोली बस इतनी सी बात और कहकर चली गई दूसरे कमरे में। तभी उसके बाद वो दस मिनट बाद आ गई और वो भी साड़ी पहनकर, मेरा उसे देखते ही लंड खड़ा हो गया।

फिर उसके बूब्स मानो ब्लाउज से बाहर निकालने को मचल रहे हो और उसके निप्पल की शेप भी दिखाई दे रही थी शायद उसने ब्रा नहीं पहनी थी। फिर उस दिन तो में घर चला गया और घर जाकर मैंने उसे एक मेसेज किया कि में आपको बहुत पसंद करने लगा हूँ और आपको किस करना चाहता हूँ। तभी उसने रिप्लाई किया कि शायद आपने किसी और का मैसेज मुझे भेज दिया है। वो भी जानती थी वो मुझसे चुदवाने वाली है और उसका भी मन करता था कि कोई उसे चोदे लेकिन वो मेरे सामने अंजान बनने का नाटक कर रहा थी और मुझे पता था कि अब वो दिन दूर नहीं है जब में अपना लंड उसकी चूत में डालूँगा।

फिर अगले दिन में कोचिंग पड़ाने गया तो मैंने फिर वो ही मैसेज दोबारा किया। तभी उसने हाँ कर दी तो में बच्चो के कमरे की कुण्डी लगा कर उसके पास चला गया और उसे किस करने लगा। तभी उसने अपनी आंखे बंद कर ली फिर उसे किस करने के बाद मैंने उसे कहा कि मुझे मेरी किस वापस नहीं दोगी। तभी वो हँसने लगी और फिर उसने मुझे किस किया। मेरे साथ ऐसा पहले कभी नहीं हुआ था। किस करने के बाद मैंने उसे बोला बस किस और कुछ नहीं? तभी वो बोली और क्या? फिर मैंने उसे अपनी बाँहों में ले लिया और उसकी गांड दबाने लगा।

अब उसे भी मज़ा आने लगा था उसका हाथ मेरे लंड पर पहुँच चुका था। तभी मैंने उसे सोफे पर गिरा दिया और उसकी साड़ी उतार दी। उसने काले रंग की ब्रा पहनी थी में उसके बूब्स ब्रा के ऊपर से ही दबाने लगा उसके बूब्स बहुत मोटे थे। फिर मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और वो भी अजीब अजीब सी आवाज़ निकाल रही थी जैसे बोल रही हो की और दबाओ और दबाओ दोनों को जोर से दबाते ही रहो। फिर मैंने मौका देखकर ब्रा उतार दी फिर में एक बूब्स दबा रहा था और फिर एक बूब्स मैंने अपने मुहं में ले लिया और चूसने लगा बूब्स चूसते चूसते अपना हाथ धीरे उसके पेट से नीचे होते हुए उसकी चूत पर ले गया और अपनी उंगली चूत के अंदर डालने लगा और वो मेरा लंड पकड़ कर खींचने लगी।

मजेदार कहानी:  भाभी का मेरिज डे मनाया

तभी उसके बाद मैंने उसको पूरा नंगा कर दिया और खुद भी पूरा नंगा हो गया वो कहने लगी कि अपना लंड मेरी चूत में डालो। तभी मैंने कहा कि मुझे नहीं पता कैसे करना है मैंने पहले कभी नहीं किया है। तभी उसने मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत में डाल लिया और मुझसे झटके मारने को कहा। तभी में भी पूरे जोश में था और उसे ज़ोर ज़ोर के झटके देने लगा और फिर में पूरे जोश से उसे चोदने लगा और वो भी मेरा पूरा पूरा साथ देने लगी। तभी कुछ देर बाद उसने अपनी गांड को जोर जोर से ऊपर नीचे करना शुरू किया और फिर में अपनी स्पीड बड़ा कर उसे जोर के धक्को के साथ चोदे जा रहा था। फिर मैंने उसे करीब बीस मिनट तक चोदा। तभी मैंने उससे पूछा कि क्या आप मेरा लंड चूसोगी? तभी वो बोली और क्या नहीं चूसूंगी क्या? तभी उसे मेरा लंड एक बार में मुहं में लिया और लंड चूस रही थी और में उसके बूब्स बड़ी ज़ोर ज़ोर से दबा रहा था। फिर उसे इतना मज़ा आ रहा था कि जैसे वो पागल हो गई थी और बोल रही थी और जोर से दबाओ बस दबाते ही रहो।

फिर में भी उसे बोल रहा था कि और चूसो बस चूसती रहो। फिर मैंने उसे अपने लंड को हल्का हल्का दांत से काटने को कहा और उसने ऐसे ही किया। तभी कुछ देर बाद मैंने अपने दोनों हाथो से उसके सर को पकड़ा और जोर के धक्को के साथ उसके मुहं में ही झड़ गया। तभी मोना ने अपने दोनों हाथो से लंड को कसकर पकड़ा और पूरा वीर्य चाटकर साफ किया वो पूरा का पूरा वीर्य पी गई और तभी कहने लगी कि उसे इससे ज्यादा मज़ा आज तक कभी नहीं आया और फिर कहने लगी यह दिन वो कभी नहीं भूल पाएगी। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

मजेदार कहानी:  बड़ी भाभी की बड़ी गांड का मज़ा: badi bhabhi ki badi gand ka maza

तभी अगले दिन जब में मोना के घर गया तो बाहर का मेन गेट खुला हुआ था। फिर मैंने अंदर घुसकर गेट बंद कर दिया और कमरे में गया तो मोना बिल्कुल नंगी थी और बच्चो के कमरे की कुण्डी लगी पड़ी थी। तभी मेरे आते ही वो मुझसे लिपट गई और मेरी टी-शर्ट उतार दी और कहा कि जल्दी से जीन्स उतारो और अपना लंड मेरी चूत में डालो और फिर मुझसे बोलने लगी कि जब भी यहाँ पर आओ कोचिंग पढ़ाने तो अंडरवियर मत पहन कर आया करो। तभी मैंने कहा कि ठीक है आप भी पेंटी मत पहना करो। अब मोना मेरे लंड की दीवानी हो चुकी थी और में उसकी चूत का और यह दीवानगी हर दिन भड़कती ही जा रही थी। फिर में अंडरवियर पहनकर नहीं जाता था और ना ही वो पेंटी पहनती थी।

फिर हम हफ्ते में तीन चार बार सेक्स करने लगे और एक दूसरे में बिल्कुल खो जाते थे और एकदम से मदहोश हो जाते थे। मैंने कई बार उसकी गांड भी मारी वो बहुत टाईट थी जब मैंने पहली बार उसकी गांड मारी उस दिन हम दोनों को बहुत मजा आया और दर्द भी बहुत हुआ। फिर मैंने अपने फोन में ब्लू फिल्म डाल ली थी और हम रोज़ ब्लू फिल्म देखते थे और जो भी फिल्म में होता था वैसे ही करते थे। फिर कुछ समय बाद में उसे अपने घर भी बुलाने लगा जब में बिल्कुल अकेला होता था और उसे हर तरह से चोदने लगा जैसा वो कहती थी। फिर हम दोनो कई बार साथ में नहाए और बाथरुम में ही शुरू हो जाते थे।

फिर मोना ने मेरी कोचिंग की फीस भी बड़ा थी और मुझसे बोल रही थी कि आप यहाँ पर कोचिंग पड़ाना कभी मत छोड़ना और में भी मन ही मन में कहता था अगर में यहाँ पर नहीं आऊंगा तो फिर मुझे चूत कैसे मिलेगी। यह पल ऐसे है जिन्हे में अपनी ज़िंदगी भर नहीं भूल सकता और में चाहता हूँ कि मुझे मोना की तरह और भी औरतें मिले जिन्हे में खुश कर सकूँ और खुद भी खुश रह सकूँ। मैंने कई बार उसकी चूत भी चाटी उसकी चूत चाटने का यह मेरा पहला अहसास था ।।

धन्यवाद …