Antarvasna Kahniyan, Kamukta, Desi Chudai Kahani
loading...

रानी ने जन्मदिन को यादगार बनाया

प्रेषक : आकाश ..

हैल्लो फ्रेंड्स.. मेरा नाम आकाश और मेरी उम्र 26 साल है और में देहरादून में रहता हूँ.. यह मेरी AntarVasnaSex.Net पर पहली स्टोरी है और में उम्मीद करता हूँ कि यह आप सभी को बहुत पसंद आएगी वैसे यह एक कहानी से ज्यादा मेरी लाईफ की एक सच्ची घटना है तो अब आप सभी को ज्यादा बोर ना करते हुए में सीधा स्टोरी पर आता हूँ। मेरा कद 5 फीट 8 इंच रंग गोरा और अच्छा शरीर है। मेरे लंड का साईज़ 7 इंच है। दोस्तों यह बात उस टाईम की है जब में बीकॉम के दूसरे साल का स्टूडेंट था.. तो उस समय मेरे घर के पीछे एक लड़की रहती थी.. उसका नाम रानी था और वो मुझे बहुत पसंद थी.. लेकिन में उससे कुछ बोलता नहीं था और बहुत डरता था कि कहीं किसी को पता ना चल जाए और वो भी मुझे कभी कभी देखती थी और उसे पता था कि में उसके पड़ोस में ही रहता हूँ।

फिर एक दिन की बात है वो अपनी फ्रेंड्स के साथ बाहर पार्क में घूमने गयी हुई थी। उस दिन उसके किसी फ्रेंड का जन्मदिन था और में भी अपने दोस्तों के साथ मस्ती करने उस दिन वहाँ पर गया हुआ था। फिर मैंने उसे वहाँ पर जब देखा तो वो बहुत ही सेक्सी लग रही थी और उसका फिगर 32-30-34 का होगा। वो उस टॉप में कितनी मस्त लग रही थी.. आप सभी को शब्दों में क्या बताऊँ? तब तक हमारी कोई बात तो नहीं हुई और में अपने दोस्तों के साथ मस्ती कर रहा था। फिर शाम के टाईम जब मैंने घर जाने के लिए अपनी बाईक बाहर निकाली तो मैंने देखा कि वो थोड़ी दूर खड़ी हुई बस का इंतजार कर रही है। तभी में उसके पास गया और मैंने उससे बोला कि क्या में उसकी कोई मदद कर सकता हूँ? उसने मुझे पहले भी कई बार देखा हुआ था तो वो मुझसे बोली कि वो बस का इंतजार कर रही है। तो मैंने उससे कहा कि वो मेरे साथ चल सकती है और थोड़ा समझाने पर वो मान भी गयी।

फिर रास्ते में घर पर जाते हुए हमारी बातें शुरू हो गई और मुझे तब पता चला कि वो बीटेक कर रही है और अभी पहले ही साल में है। फिर हमने घर पर पहुंचने तक यहाँ वहाँ की बहुत सी बातें की और हम बहुत अच्छे दोस्त बन गये। फिर मैंने उसे उसके घर पर छोड़ दिया और मैंने जाते हुए उससे मोबाईल नंबर एक्सचेंज कर लिए और उसे उसी रात को एक मैसेज किया और फिर थोड़ी देर बाद उसने भी मुझे एक मैसेज किया। फिर हम जब भी कभी कहीं पर भी मिलते तो थोड़ा रुककर एक दूसरे से बात कर लेते और चेटिंग करते हुए हमे करीब 20 दिन हो गए थे और में धीरे धीरे उससे बहुत प्यार करने लगा। तो एक रात हम चेटिंग कर रहे थे कि तभी मैंने उससे पूछा कि उसका कोई बॉयफ्रेंड है? तो उसने साफ मना कर दिया और में मन ही मन उसकी यह बात सुनकर बहुत खुश हुआ। फिर उसने भी मुझसे यही सवाल पूछा.. तो मैंने भी मना कर दिया और मैंने मैसेज में लिखकर भेजा कि मुझे उसके साथ टाईम गुजारना और बात करना बहुत अच्छा लगता है और उसने मुझसे कहा कि उसे भी यह सब बहुत अच्छा लगता है। फिर मैंने उसे कहा कि क्या वो मुझे कल मिलेगी.. में उससे कुछ कहना चाहता हूँ? तो वो मान गयी और शाम को हम एक सुनसान जगह पर मिले.. में उसके लिए एक गिफ्ट लेकर गया था और अब तक उसकी बातों से मुझे पता चल चुका था कि वो मुझे बहुत प्यार करती है और मैंने उसे कह दिया कि में तुमसे बहुत प्यार करता हूँ और उसे वो गिफ्ट दे दिया। फिर उसने मुझे जवाब में हाँ बोला और मैंने उसे उसके गाल पर एक किस किया और फिर हमने कुछ देर बात की और फिर अपने अपने घर पर चले गये फिर तो हम रोज देर रात तक चेट करते और कभी कभी सेक्सी बातें भी शेयर करते.. एक रात उसने मुझे बताया कि उसके पेट में बहुत दर्द हो रहा है। तो में डर गया और मैंने उससे पूछा कि कैसे हुआ? तो उसने मुझे बताया कि उसके पीरियड चल रहे है और फिर तो हम दोनों बिल्कुल खुल गए और हर चीज के बारे में बातें करने लगे। तभी उसने मुझसे बताया कि वो वर्जिन है। में तो उसकी यह बात सुनकर बहुत खुश हुआ और हम बातें करने लगे कि आज ब्रा पहनी है या नहीं? बूब्स का साईज़ कितना है और अब तो में रात दिन उसी के ख्यालों में डूबा रहता था और उसे चोदने की सोच रहा था और अब तो हम ज्यादा सेक्स चेट करते थे। दोस्तों ये कहानी आप AntarVasnaSex.Net पर पड़ रहे है।

फिर एक दिन मैंने उससे कहा कि अब में तुम्हारे बिना नहीं रह सकता हूँ और नॉनवेज बातें तो हम हर रोज करते ही थे.. इस बीच में उससे बहुत बार मिला भी और हमारे बीच सिर्फ किस ही हुआ क्योंकि में जल्दी नहीं चाहता था। फिर कुछ टाईम के बाद वो टाईम भी आया जब फाईनली मैंने उसे चोदा.. दोस्तों यह बात उस टाईम की है जब मेरा जन्मदिन था.. उससे एक दिन पहले मैंने पूरी तैयारी कर ली थी होटल भी बुक करा लिया था। फिर हमेशा की तरह हम रात को चेट कर रहे थे तो उसने मुझसे पूछा कि जानू कल क्या गिफ्ट दूँ? मैंने कहा कि कल तुम मुझे जितना प्यार दे सकती हो देना। तो उसने कहा कि ठीक है और फिर हम सो गये। फिर में बड़ी बेसब्री से उस पल का इंतजार कर रहा था.. वो मुझे अगली सुबह मिली वो जिन्स और टॉप में क्या सेक्सी लग रही थी? फिर मैंने उसे अपनी बाईक पर बैठाया और होटल में ले गया.. उसने मेरे जन्मदिन के लिए पहले से ही एक केक ऑर्डर कर रखा था।

तो हमने दुकान से केक लिया और कुछ चोकलेट भी ली और में उसे होटल में ले आया। फिर हमने केक में मोमबत्ती जलाई और एक बियर की बोतल खोली, केक काट दिया और बियर का झाग बनाकर उड़ाया फिर केक काटकर मैंने एक टुकड़ा उसे खिलाया और उसने मुझे और फिर जन्मदिन विश करते हुए उसने थोड़ा केक मेरे चहरे पर लगा दिया और मुझे गिफ्ट दिया। फिर मैंने उसे पकड़ा और हम दोनों एक दूसरे को पागलों की तरह किस करने लगे.. फिर मैंने उसके बूब्स को उसके कपड़ो के ऊपर से दबाया और 20 मिनट तक ऐसा करते रहे और अब हम दोनों गरम हो गये थे। फिर मैंने उसका टॉप निकाला और उसकी ब्रा भी खोल दी और उसके बूब्स इतने सेक्सी लग रहे थे कि में क्या बताऊँ? फिर में उसके बूब्स को चूसता रहा मुझे बहुत मज़ा आ रहा था।

फिर उसने मेरी शर्ट खोली और पेंट भी हम दोनों ने एक दूसरे को पूरा नंगा कर दिया उसकी चूत बहुत छोटी सुंदर और उस पर छोटे छोटे बाल थे और उसे छूते ही वो काँप उठी। तो हम एक दूसरे को किस करने लगे.. फिर मैंने केक लिया और उसके पूरे नंगे शरीर पर लगा दिया और उसने मेरे शरीर पर लगा दिया। फिर हमने एक दूसरे के शरीर को चाटा। मैंने उसे लेटाया और उसके बूब्स पर फिर से केक लगाया और चूसने लगा। फिर उसकी चूत पर केक लगाया और जैसे ही चूसा तो वाह क्या मज़ा आ रहा था? वो तो एकदम तड़प उठी और कुछ देर बाद झड़ गयी। फिर वो बोली कि प्लीज अब और मत तड़पाओ तो मैंने अपने लंड पर केक लगाया और उसे चूसने को कहा.. वो भी गरम हो गयी थी और बड़े मज़े लेकर चूस रही थी और में भी सातवें आसमान पर था। फिर मैंने उसे बेड पर लेटाया और उसकी चूत में उंगली डाली उसे बहुत दर्द हो रहा था और वो आवाज़े निकाल रही थी और सिसकियाँ ले रही थी। जिससे मेरा जोश और बड़ गया और अब मेरा लंड भी बहुत जोश में आ चुका था। तो मैंने उसके दोनों पैर ऊपर किए और अपने लंड को उसकी चूत पर लगा दिया और एक ज़ोर का धक्का दिया.. अभी आधा ही लंड उसकी चूत में गया था और वो बहुत तड़प उठी और उसकी चूत से खून की धार बहने लगी और मुझसे आग्रह करने लगी प्लीज इसे बाहर निकालो मुझे बहुत दर्द हो रहा है में मर जाउंगी। तो मैंने उससे बोला कि शुरू में थोड़ा दर्द होगा.. लेकिन उसके बाद में बहुत मज़ा आएगा और यह कहकर में उसको किस किया और बूब्स दबाने, सहलाने लगा। फिर जब वो थोड़ा ठीक हुई तो मैंने एक और धक्का देकर पूरा का पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया और वो दर्द से चिल्लना चाहती थी.. लेकिन मैंने अपने होंठ उसके होंठ से सटा दिए और फिर उसके बूब्स दबाने लगा। वो थोड़ा ठीक हुई तो फिर से मैंने धक्के लगाना शुरू किया.. अब उसे भी मज़ा आने लगा और वो भी मेरा साथ पूरा पूरा देने लगी।

फिर हम दोनों ने जमकर चुदाई की और वो इस 30 मिनट की चुदाई में चार बार झड़ चुकी थी और में भी 2-3 बार झड़ चुका था। फिर हम दोनों ही बहुत थक चुके थे और में उसकी चूत में लंड डालकर उसके ऊपर ही लेटा रहा और हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे। फिर हम थोड़ी देर के बाद बाथरूम में गये। मैंने उसे वहाँ पर भी एक बार चोदा और फिर फ्रेश होकर बाहर आए और मैंने रूम का बिल दिया और उसको उसके घर के पास छोड़कर शाम को दोस्तों के साथ जन्मदिन की पार्टी के मजे किए। यह मेरा अब तक का सबसे अच्छा जन्मदिन था और में उम्मीद करता हूँ कि आप सभी को मेरी यह स्टोरी अच्छी लगी होगी ।।

धन्यवाद …

Leave A Reply

Your email address will not be published.

8 Comments
  1. Kumar Rupesh says

    Verey nice histore

  2. karmbeer says

    bakawas. story h ek.dam

  3. Anonymous says

    mujhe bhi ak bar do ma

  4. sanam says

    [email protected] contact now for sex only girl

  5. sonu kumar says

    please gujarat(rajkot,junagadh) girl, bhabhi,aunty……contact me… [email protected]

  6. Haker says

    Nice story

  7. Pranav, says

    Very good bahi

    1. Anonymous says

      Ggfds