loading...

पड़ोसन भाभी की चुदाई

हेलो दोस्तों. मैं हु मणि फ्रॉम जालंधर. मेरी उम्र २० साल है और मेरे लंड का साइज़ ७ इंच है. मैं एक विलेज में रहता हु और मुझे आंटी और भाभी के साथ सेक्स करने में बहुत मज़ा आता है. मुझे बड़े बूब्स और चौड़ी गांड वाली औरतें पसंद हैं. अगर आप किसी भाभी या आंटी को सेक्स सैटइसफेक्शन चाहिए, तो मुझे जरुर बताये. अब मैं ज्यादा टाइम ना वेस्ट करते हुए स्टोरी पर आता हु.

ये १ महीने पहले की बात है. हमारे घर के पास एक नई शादीशुदा कपल शिफ्ट हुए थे. उस भाभी का तो आपको क्या बताऊ… क्या मस्त सेक्सी फिगर था. यार देखते ही चोदने का मन हो जाए. उसके पति को कोई जरुरी काम था, इसलिए उसको २ हफ्ते के लिए शहर से बाहर जाना पड़ा. मैं एक दिन वहां से गुज़र रहा था, तो देखा कि भाभी उदास लग रही थी. मैंने उनसे बात करनी चाहिए, तो वो घबरा गयी.

मैं उसके पास गया और पूछा – क्या बात है? बड़े उदास लग रहे हो?

मैंने उनसे उनका नाम पूछा – उसने जसमीत (नाम चेंज) बताया.

मैंने कहा, कोई तंग करता है क्या? तो उसने ना में सिर हिला दिया.

मेरे बहुत पूछने के बाद, उसने मुझसे कहा – कि जो मैं तुमसे कहूँगी, वो तुम किसी को नहीं बताओगे. मैंने हाँ में हिला दिया. मुझे उसने बताया, कि उसकी शादी को ६ महीने हो चुके थे और उसके पति ने उसके साथ एक बार भी सेक्स नहीं किया है. मैं समझ गया था, कि वो लंड की भूखी थी.

मजेदार कहानी:  गुड़गाँव की रण्डी

मैंने उसको पूछा, कि इसमें मैं आपकी क्या मद्दत कर सकता हु. तो उसने कहा – इसमें तुम क्या कर सकते हो? मैंने उसे कहा – अगर आपके पति की कमी दूर कर दू तो. ये कहते हुए मैं डर रहा था. लेकिन उसने मुझे कस कर गले से लगा लिया और मेरे से लिपट गयी.

मैंने उसको दिवार के साथ लगा दिया और किस्सिंग स्टार्ट कर दी और वो भी मेरा साथ दे रही थी. वो गरम हो रही थी. मैंने उसके सूट के अन्दर हाथ डाल कर उसके बूब्स दबाने शुरू कर दिए. क्या मस्त गोरे बड़े बूब्स थे, मुलायम – मुलायम… १० – १५ मिनट की किस्सिंग के बाद, मैंने उसका सूट उतार दिया. उसने पिंक कलर की ब्रा पहनी हुई थी. मैंने उसकी ब्रा भी उतार दी. अब उसके बूब्स मेरे सामने आजाद हो गये थे. मैंने एकदम उसके बूब्स मुह में डाल लिए और उसे दबाने लगा. एक बूब्स मुह में, मैं चूस रहा था और निपल को काट रहा था. वो सिसकिया ले रही थी. मैंने अपना एक हाथ उसकी पेंटी में डाल दिया. क्या गर्मी थी वहां. उसके मुह से आवाज़े आने लगी अहाहह्हा अहहहः म्मम्मम्मम्म मुह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह हहहः अहहहः अहहहः आआआअ ऊऊफ़ुफ़ुफ़ूउफ़्फ़्फ़्फ़… मैंने फिर उसकी सलवार उतार दी. उसकी गोरी जांघे देख कर किसिंग स्टार्ट कर दी. मैं मुह से लेकर उसकी चूत तक उसे चाटने लगा और उसने पिंक कलर की पेंटी पहनी हुई थी. मैंने उसे भी उतार दिया और उसकी गुलाबी चूत को देखने लगा. शायद, अभी थोड़ी ही देर पहले ही उसने बाल साफ़ किये थे.

मजेदार कहानी:  बॉस के साथ मेरी फेमिली – 1

मस्त चूत थी. मैंने उसमे अपनी ऊँगली डाल दी और हिलाने लगा जोर – जोर से. वो आवाज़े कर रही थी अहहह्हा अहहहः मूह्ह्हूऊऊउह्ह्ह्ह मर गयीईईईईईस्सस्सस्सस्स म्मम्मम्म… वो पूरी गरम हो चुकी थी और बाद में मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में डाल दी. मैं कुछ देर उसकी चूत को चाटता रहा और वो कुछ देर बाद झड़ गयी. उसका सारा पानी मेरे मुह में चले गया.. वाह क्या स्वाद था. नमकीन थे टेस्ट में… मैंने बाद में, अपने कपड़े उतारे और अब हम दोनो टोटल नंगे थे. अब उसे मैंने अपना लंड मुह में डालने को कहा. वो मना कर रही थी, पर बाद में उसने डाल लिया. वो चूसने लगी.. मुह्ह्ह्हह्ह और अपने बूब्स पर रगड़ रही थी. मैं थोड़ी देर बाद झड़ गया उसके मुह में ही. वो मेरा सारा माल पी गयी. अब मैंने उसे बेड पर लिटा दिया और उसे टाँगे फ़ैलाने को कहा. उसने अपनी टाँगे फैला ली. फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत किया और धक्का दिया. तो मेरा आधा लंड उसकी चूत में चले गया. उसकी चूत बहुत टाइट थी.

वो चीखने लगी ऊऊउईईईईई माँ मर ग्यीईईईईईईईईईईईईईईई… अहहहहह्हः अहहह्ह्ह मार डाला तुमने…. अममाममममम अमममम्मा आऔऔऔऔऔअ.. वो रोने लगी. उसने मुझे मेरा लंड बाहर निकालने को कहा. पर मैंने उसके लिप पर अपने होठ रख कर लॉक कर लिया. फिर मैंने उसे अच्छी तरह से कस लिया और एक और धक्का दिया और मेरा सारा लंड उसके अन्दर चले गया. वो चिल्लाने लगी आआआआआआ आआआआआ मार दोगे क्याआआआआआआआअ… मर ग्यीईईईईईईईईईईईईईईई…. अहहहह्हा अहहहहः. कुछ देर बाद वो नार्मल हुई और अब वो मेरा साथ देने लगी. उसने मुह से आवाज़े आ रही थी फाड़ दो आज इसको… फाड़ डालो… जोर से चोदो मुझे… अहहाह अहहः अहहाह ऊऊउफ़्फ़्फ़्फ़. निचोड़ लो मेरे जिस्म का रस… पूरा पी जाओ… अब वो मुझे किस करने लगी थी. मैं अब थोड़ा तेज होने लगा था और वो भी मेरा साथ दे रही थी… २० – २५ मिनट बाद मैं झड़ गया. फिर हम दोनों कुछ देर साथ लेटे रहे. वो मुझे किस करने लगी और मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.

मजेदार कहानी:  टाइट चूत का मजा अपने से आधे उम्र की लड़की के साथ

थोड़ी देर बाद, मैंने उसकी गांड मारने की सोची. वो मना कर रही थी. पर मान गयी. मैंने उससे तेल लाने को कहा और वो ले आई. मैंने तेल अपने लंड पर लगाया और उसे डौगी स्टाइल में करके के लिए कहा. वो मान गयी और मैंने लंड को उसकी गांड पर सेट किया और धक्का लगाया… मेरा थोड़ा सा ही लंड अन्दर गया और वो चिल्ला उठी मर गयी मैं आआआआआअह्हह्हह्हह्हह्हह अहहहः.. अहहः अहहहः बाहर निकालो इसे अभी की अभी… मेरी जान निकल रही है.. अहहः अहहः आआआ हम्म्म्म उम्म्म्मम्म. पर मैं भी कहाँ मानने वाला था. मैंने एक और जोर का धक्का लगाया और सारा लंड अन्दर चले गया और फिर मैं थोड़ी देर रुका और फिर धीरे – धीरे धक्के लगाने लगा. अब वो नार्मल हो गयी और मेरा साथ देने लगी. १० मिनट के बाद, मैं उसके अन्दर ही झड़ गया और हम दोनो एकदूसरे के साथ खूब देर तक पड़े रहे. फिर मैंने अपने कपड़े पहने और उसने मुझे थैंक्स कहा और मुझे अपना नंबर दिया. फिर मैंने उसकी काफी बार चुदाई की..