loading...

मेरी रंडी माँ – 1

प्रेषक : सुनील

हेल्लो दोस्तों.. मेरा नाम सुनील है. में इस साइट का बहुत बड़ा फेन हूँ. तो आज अपनी सच्ची कहानी आपको बताने आया हूँ।

मेरा नाम सुनील है में 22 साल का हूँ. इस वक़्त नंगा बैठकर स्टोरी लिख रहा हूँ और मेरी रंडी माँ भी नंगी होकर मेरी गोद मे बैठी है मेरा साथ दे रही है स्टोरी लिखने मे. में कॉलेज मे पड़ता हूँ. मेरी माँ का नाम राधा है वो 42 साल की है. 42 की उम्र मे भी वो 32 की लगती है. में और माँ हमेशा फ्रेंड्स की तरह रहते है. में साड़ी बाते माँ क साथ शेर करता हूँ और हर तरह की बात करता हूँ यहा तक की गर्ल फ्रेंड्स की भी. मेरी माँ बहुत फ्रॅंक है. में दिल्ली मे रहता हूँ. मेरे घर मे मेरे अलावा मेरी माँ है. पापा जॉब की वजह से बाहर रहते है. महीने मे एक बार ही आते है. इसके अलावा मेरी एक बहन रश्मि है वो पुणे मे बी.टेक कर रही है. घर मे सिर्फ़ में और माँ रहते है. में अब अपनी माँ के बारे मे बताता हूँ. मेरी माँ एक बेहद सेक्सी माल है.चूचे मोटे मोटे और गांड बाहर नीकली हुई है. वो अक्सर साड़ी पहनती है।

जब वो कॉलोनी मे गांड मटकाकर चलती है तो कॉलोनी के हर आदमी का लंड खड़ा हो जाता है. हर कोई माँ को लाइन मारता है और बहाने से उनसे बात करने की कोशिश करते है. माँ को भी इसमे मज़ा आता है और वो जान बूझकर ऐसा करती है. माँ का फेस बिल्कुल मंमता कुलकर्णी की तरह लगता है और फिगर विधा बालन की तरह एक दम भरा हुआ. तो में अब कहानी पर आता हूँ. में अपनी माँ के बारे मे कभी ग़लत नही सोचता था. उसे हमेशा एक माँ की तरह से प्यार करता था. लेकिन पिछले महीने ऐसा हुआ की जिससे मेरी जिंदगी बदल गइ. मैने अपनी माँ को ही चोद डाला।

पिछले महीने पापा जब घर आए थे तो 2 दिन रहकर वापस बेगलुर चले गये और साथ मे माँ को भी ले गये. माँ ने कहा की घर का ख्याल रखना में एक हफ्ते बाद वापस आ जाउंगी. मैने कहा ठीक है. माँ चली और और एक हफ्ते बाद वापस आ गइ. जब माँ घर वापस आई तो बातें करने लगी की हम कहा कहा घूमने गये. फिर माँ ने अपना मोबाइल खोला और उसमे मुझे फोटो दिखाने लगी जो उन्होने खीची थी बेगलुर मे. फोटो बहुत अच्छी थी।

फोटो देखते देखते अचानक एक फोटो आ गइ जिसमे माँ एक स्विमस्यूट मे पूल के पास खड़ी थी बिल्कुल भीगी हुई. अचानक माँ ने मोबाइल बंद कर दिए की बस यही फोटो और नही. में हैरान था की माँ ऐसे कपड़े भी पहन सकती है. फोटो देखकर मेरा लंड खड़ा हो गया माँ स्विंमसुट मे एक सेक्सी माल लग रही थी. में तभी बाथरूम मे गया और ना चाहते हुए भी माँ के नाम की मूठ मार ली. बाद मे मुझे अफ़सोस हुआ पर माँ के नाम की मूठ मारने मे जितना मज़ा आया उतना आज तक न आया था. मैने सोचा रात को जब माँ सो जाएँगी तो माँ का फोन चेक करूँगा और रात होने पर में माँ के कमरे मे गया और माँ का मोबाइल ले आया।

फिर मैने मेमोरी कार्ड निकाल के सारी फोटो कंप्यूटर मे कॉपी कर ली और मोबाइल वापस रख दिया. वापस मैने फोटो देखनी शुरू की. कुछ फोटो तो नॉर्मल थी लेकिन कुछ फोटो मे माँ ने बहुत सेक्सी छोटे छोटे कपड़े पहन रखे थे जैसे की मिनी स्कर्ट और टॉप. मिनी स्कर्ट भी इतनी छोटी थी की सिर्फ़ माँ की गांड को कवर कर रही थी और माँ के आधे चुचे बाहर थे. कई सारी फोटो माँ की बीच पर थी जिसमे माँ ने सिर्फ़ बिकिनी पहन रखी थी बिकिनी मे मेरी माँ एक दम मस्त रंडी लग रही थी मेरे लंड ने फोटो देखते देखते ही माल छोड़ दिया. मुझे यकीन ना हुआ जिस माँ को में साड़ी मे देखता था आज उसको पूरी नंगी देख रहा हूँ इस हालत मे।

मजेदार कहानी:  बॉयफ्रेंड ने मुझे जन्नत की सैर करवाई

उस रात मैने माँ की फोटो देखते देखते 4 बार मूठ मारी. सुबह जब में उठा तो मेरा लंड खड़ा था. मेरा मन माँ को चोदने का कर रहा था. मैने भी ठान लिया इस साली रंडी को चोद के रहूँगा. घर पर साली पुर कपड़े पहनती है और बाहर जाकर नंगी घूमती है. सुबह उठकर में फ्रेश हुआ माँ ने मुझे नाश्ता दिया और में कॉलेज चला गया. कॉलेज मे मेरा मन नही लगा मेरे दिमाग़ मे माँ की नंगी तस्वीर ही घूम रही थी तो में घर वापस आ गया. वापस आकर मैं माँ से बाते करने लगा की आप कहा कहा घूमने गये थे माँ ने कहा बेगलुर घूमे और वापस आते हुए गोवा. में समझ गया माँ की वो बिकिनी वाली फोटो बीच गोवा की होंगी. फिर मैने माँ से डाइरेक्ट पूछ लिया की कल आप मुझे फोटो दिखा रही थी तो उसमे एक फोटो मे आपने स्विमस्यूट पहन रखा था. माँ शरर्मा गइ और बोली की बेटा पूल मे तो सिर्फ़ स्विमस्यूट पहन के ही जाते है. तो मैने कहा माँ आप यहा तो हमेशा साड़ी पहनती है तो आपको स्विंमसुट पहनने मे प्रोब्लम तो नही आई तो माँ बोली बेटा मुझे ऐसे कोई प्रोब्लम नही होती. बस में यहा सबके सामने ऐसे कपड़े नही पहनती।

वरना मेरा मन तो मॉडर्न ड्रेस पहनने का करता है और फिर तू भी तो रहता है तेरे सामने ऐसे कपड़े कैसे पहनु और एक तो कॉलोनी के आदमी वैसे ही इतना घूरते है औरतो को. तो मैं बोला माँ आपकी और भी ऐसे फोटो होंगी. तो माँ शरमा गइ और बोली हा है पर तुझे इससे क्या मतलब. मैने कहा मुझे देखनी है तो माँ शरमा गइ और बोली पागल है अपनी माँ की ऐसे हालत मे देखेगा तुझे शरम नही आती. लगता है तेरी शादी करनी पड़ेगी फिर तू अपनी पत्नी को ऐसे कपड़े पहनाना. फिर मेरा ज़्यादा कहने पर माँ ने मुझे अपनी मिनी स्कर्ट मे फोटो दिखाई जो में पहले ही देख चुका था।

फिर मैने माँ से कहा की गोवा की फोटो दिखाओ तो माँ ने नही दिखाई क्यूंकी पर मेरे ज़्यादा कहने पर माँ एक झलक अपनी गोवा की बिकिनी वाली फोटो दिखाई फिर एक दम हटा दी.. फिर मैने माँ से कहा आपको ऐसा कपड़े पहन कर अजीब नही लगता. तो माँ ने कहा हा जानने वालो को सामने होता है लेकिन बाहर नही होता. तो मैने कहा माँ अगर आपका मन करता है तो आप घर मे भी पहन सकती है मुझे कोई प्रोब्लम नही है. तो माँ ने कहा थॅंक्स बेटा अगर तुझे कोई प्रोब्लम नही है तो में पहन लूँगी वैसे भी मुझे मिनी स्कर्ट पहनना पसंद है साड़ी मे अजीब सा लगता है।

फिर माँ बड़ी खुश हुई और माँ ने तभी रूम मे चेंज करने गइ और एक मिनी स्कर्ट पहन के आ गइ और एक टॉप. माँ को ऐसे हालत मे देखकर मेरा लंड खड़ा हो गया. रेड टॉप मे माँ को मोटे मोटे बोब्स अलग ही दिख रहे थे मन कर रहा था की अभी जाकर चूस लू और चोद दू इस रंडी को. माँ मुझे अब एक रंडी लग रही थी. जांघे एक दम गोरी गोरी जी चाह रहा था की अभी साली रांड के कपड़े फाड़ के चोद डालु भोसडीवाली को. उस दिन मैने फिर माँ के नाम की मूठ मारी।

मजेदार कहानी:  मम्मी का ट्रेन में गैंगरेप

अब हर रोज़ ऐसा ही चलता रहा माँ रोज़ छोटे छोटे कपड़े पहनती और रोज़ में अपनी माँ के नाम की मूठ मारता. अब मैने धीरे धीरे माँ के व्यहार मे चेंज नोटीस किया उसके चेहरे पर हमेशा स्माइल रहती और दिन पर दिन उसके कपड़े और भी छ्होटे होते जा रहे थे अब माँ अंदर ब्रा भी नही पहनती और स्कर्ट इतनी छोटी की सिर्फ़ गांड को कवर करती. मैने नोटीस किया की माँ किसी ना किसी बहाने से झुकती है जिससे मुझे उनकी स्कर्ट के अंदर पेंटी तक दिख जाती. आधे बोब्स बाहर आ जाए. माँ अब पूरी रंडी की तरह रहने लगी।

मन करता की साली रंडी के अभी कपड़े फाड़ दूँ और चोद दूँ बहन की लोडी को जिसमे इतने दीनो से परेशान कर रखा है. एक दिन तो मेरी रंडी माँ राधा ने हद ही कर दी. में जब कॉलेज से घर आया तो माँ को आवाज़ लगाई. माँ ने वापस रिप्लाइ किए वो अपने रूम मे थी. में सीधा माँ के रूम मे चला गया और माँ को देखकर मेरी हालत खराब हो गइ माँ एक रेड कलर की बिकिनी मे खड़ी थी. में अंदर जाते ही वापस चला गया और बोला आप कपड़े पहन लो में फिर आता हूँ।

तो माँ ने कहा रुक जा कहा जा रहा है. मैने कपड़े पहन रखे है. कुछ नयी बिकिनी लाई थी वो ट्राइ कर रही हूँ. ज़रा बता तो कैसे लग रही हूँ. बिकिनी मे अपनी रंडी माँ राधा को देखकर मेरी हालत खराब हो गइ लंड एक दम खड़ा हो गया. बिकनी मे माँ के पुरे बोब्स बाहर आ रहे थे. मोटे मोटे बोब्स को देखकर मन हुआ अभी जाकर चूस लू. बिकिनी सिर्फ़ चूत को कवर कर रही थी. गांड पूरी दिख रही थी मोटी मोटी. माँ के गोरे गोरे चूतड़ देखकर मज़ा ही आ गया. माँ पूरी रंडी लग रही थी. साली भोसडी वाली पहले तो सती सावित्री की तरह साड़ी मे ढकी हुई रहती थी एक बार मॉडर्न ड्रेस पहनने को हा कर दी तो साली पूरी नंगी होके सामने खड़ी है रंडी बहनचोद।

फिर माँ ने कहा कहा खो गया बता में केसी लग रही हूँ. मेंने कहा मस्त एक दम. आपको देख कर तो जवान लड़किया भी शरमा जाए. माँ के चेहरे पर ये सुनके मुस्कान आ गइ. माँ बोली ठीक है आज में यही बिकिनी पहनती हूँ. फिर मैने माँ से कहा की चाय बना दो. में इतने फ्रेश हो जाता हूँ. में बाथरूम मे फ्रेश हुआ और दो मूठ और मारी माँ के नाम की. मेरा लंड दर्द करने लगा. में मूठ मारते हुए सिसकारिया भरने लगा. ओहह..हा.. मोम्म राधा रंडी कितनी सेक्सी है तू बड़ा मज़ा आ रहा है तुझे चोदने मे अहाहाहा ऑश मेरी सेक्सी माँ राधा अहहहहा अहहा…

मजेदार कहानी:  जनम दिन पर मिला माँ और बहन की चूत का उपहार

जब में फ्रेश होकर बाहर आया तो माँ ने वही बिकिनी अभी भी पहन रखी थी मैने माँ से कहा आपको कपड़े नही पहनने क्या. अगर कोई आ गया तो. तो माँ बोली-तू ही तो कह रहा था की में मॉडर्न ड्रेस पहन लू तो कोई प्रोब्लम नही और अब तुझे ही प्रोब्लम हो रही है. मेरा मन बिकिनी पहनने का हुआ तो पहन ली और अगर कोई आया तो में बाथरूम मे जाकर चेंज कर लूँगी…

मैने भी कहा ठीक हे माँ. उस दिन मेरी रंडी राधा पुरे दिन मेरे सामने बिकिनी मे घूमती रही. मेरा पूरा दिन लंड खड़ा रहा माँ ने कई बार मेरे लंड की तरफ नोटीस ही क्या और एक हल्की स्माइल दे देती. मन तो कर रहा था की घर मे एक रंडी घूम रही है चोद दू साली को पर हिम्मत नही हो रही थी. पूरा दिन ऐसा ही चलता रहा में भी तरीका ढूंड रहा था की इस रंडी को कैसे चोदु. मुझे लग रहा था की माँ भी मुझे चुदवाना चाहती है इसलिए ऐसा कर रही है।

फिर रात को मुझ से रहा नही गया तो मैने माँ के रूम मे होल से झाँकने लगा. अंदर देखा तो माँ बेड पर पूरी नंगी पड़ी थी. और अपनी चूत मे उंगली कर रही थी. मैने वही पर एक मूठ मार ली. फिर माँ ने अपनी एक सहेली रीना को फोन किया में बाते सुनने लगा. उन दोनो की बाते सुनके में दंग रह गया. माँ बोल रही थी क भोसडीवाला छक्का है मेरा बेटा के सामने बिकिनी मे घूम रही थी और भोसडीवाले ने कुछ ना किया. कोई और होता तो चोद देता इस रंडी को. साली ये चूत की प्यास बुझती ही नही एक महीने मे एक बार ही चुदती है बस. फिर माँ बोलने लगी की तू अपने पति को ही भेज दे बहुत दिन हो गये उससे चुदवाए हुए. बड़ा मस्त चोदता है तेरा पति. पिछली बार जब तू एक हफ्ते के लिए रहने आई थी तो तेरे पति ने मस्त चोदा था ऐसे चुदाई अब तक नही हुई मेरी. अब मुझे ही कुछ करना पड़ेगा. कल अपने बेटे के सामने पूरी नंगी हो जाउंगी देखती हूँ की कैसे नही चोदता।

फिर इसी तरह की बात करके माँ ने फोन काट दिया. में दंग रह गया ये सब सुनके. मुझे पता चल गया की माँ भी मुझ से चुदवाना चाहती है और ये तो साली एक रंडी है जिससे में अब तक सती सावित्री समझता था. मुझे अब अपनी माँ एक पूरी रंडी लगने लगी जो पता नही कितनो से चुदवा चुकी है. उसके बाद मे मूठ मारके सो गया ये सोचते हुए की कल मेरी रंडी राधा खुद मुझसे चुदने आएगी।

आगे की कहानी बाद मे लिखूंगा ….

धन्यवाद । ।