Antarvasna Kahniyan, Kamukta, Desi Chudai Kahani
loading...

ममेरी बहन की जबरदस्त चुदाई घर में ही

हैलो पाठको, मै अंकित सिंह, 19 साल का हु। और दिखने में ठीक-ठाक हूँ। अच्छा ख़ासा गठीला जिस्म है। मेरा लंड 7 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा है।

यह मेरी पहली कहानी है, जो मै यहाँ पोस्ट कर रहा हूँ। ये स्टोरी मेरी और मेरी मौसी की लड़की के बारे में है। उसका नाम सोनिया है और सब उसे प्यार से दीपा कहते हैं।

मै आपको अपनी बहन के बारे में बता दूँ कि वो अभी 18-19 साल की है, उसका फिगर किसी 20-22 साल की लड़की की तरह है। बड़े-बड़े चूचे, मोटी उठी हुई गाँड, जिसका मै तो मस्त दीवाना हूँ, उस पर मोहल्ले के सारे लड़के मरते थे।
मैने पहले कभी उसके बारे में ऐसा नहीं सोचा था, मगर 4 महीने पहले जब मेरी कॉलेज की छुट्टियाँ चल रही थीं, उस समय मै अपने मामा घर गया था। मेरे मामा आर्मी में हैं और साल में 1-2 बार ही घर आते हैं। इसलिए दीपा मेरी मामी के साथ उनके घर पर रहती है।

जब मै मामा के घर पहुँचा, तो उस वक्त दोपहर के 2 बजे थे। घर पर सिर्फ मामी जी थीं, उनका 8 साल का लड़का स्कूल गया हुआ था और दीपा भी स्कूल गई थी।

मामी ने घर वालों के बारे में पूछा और मुझे फ्रेश होने को कहा।
मै फ्रेश हो गया और उसके बाद मैने खाना खाया।
थोड़ी देर बाद दीपा और मेरे मामा का लड़का निशांत भी आ गए।

वो मुझे देख कर काफी खुश हुए, उस वक्त दीपा स्कूल ड्रेस में ही थी और एकदम भरी-पूरी जवान लड़की लग रही थी।
हम लोग ने थोड़ी देर बात की और फिर रात हो गई, सबने साथ में खाना खाया। उस समय कोई साढ़े आठ बज रहे होंगे।

फिर सब सोने चले गए, हम सभी लोग एक ही कमरे में सोने वाले थे। मामी, निशांत और दीपा एक बिस्तर पर और मै अलग एक सिंगल बेड पर सोने वाला था।

मामी ने मुझसे कुछ देर दीपा को पढ़ाने को कहा, तो दीपा मेरे बिस्तर पर आ गई।
हम लोगों ने करीब दस बजे तक पढ़ाई की।

उसके बाद दीपा बोली- मुझे नीद नहीं आ रही है, पर पहले अपने मोबाइल में मुझे कोई मूवी दिखाओ।
मैने उसे अपने फ़ोन में मूवी लगा कर दे दी और मै सो गया।
दीपा वहीं मेरे पास लेट कर मूवी देखने लगी, रात में अचानक मेरी नीद खुली, तो देखा कि दीपा अभी भी मूवी देख रही थी।

उस वक्त मेरा हाथ उसकी गाँड पर चला गया था। मुझे अपने अन्दर एक अजीब सी, लेकिन अच्छी उत्तेजना का अहसास हुआ।

मै जानबूझ कर सोने का नाटक करता रहा। थोड़ी देर बाद, वो भी उठ कर सोने चली गई। अगले दिन सब कुछ नार्मल था। रात को फिर मामी ने उसे मेरे पास पढ़ने के लिए भेज दिया।
हमने थोड़ी देर पढ़ाई की।
उसके बाद, दीपा बोली- आज भी मूवी देखनी है,

तो मैने उसे मूवी चालू करके दे दी।
वो मूवी 4 पार्ट्स में थी,
मैने दिन में उस मूवी के सेकंड पार्ट की जगह एक ब्लू फिल्म डाल दी थी और उसको उसका नाम दे दिया था।

दीपा मूवी देख रही थी और मै सोने का नाटक कर रहा था,
जब वो पार्ट ख़त्म हुआ, तो ब्लू-फिल्म शुरू हो गई, पहले तो दीपा चौंक गई। मगर बाद में वो बड़े ध्यान से देखने लगी। कुछ देर बाद, मुझे ऐसा लगा कि वो हिल रही थी। मैने ध्यान दिया, तो पता चला कि वो अपनी चुत में उंगली कर रही थी।
थोड़ी देर में उसका पानी निकल गया और वो वहाँ से उठ कर सोने चली गई।

अगले दिन सन्डे था। जब मै उठ कर बाथरूम जाने लगा, तो मैने देखा कि बाथरूम में कोई नहा रहा था।
मैने जब दरार से झांक कर देखा, तो दीपा वहाँ नंगी नहा रही थी। मेरा लंड उसे नंगी देख कर एकदम से तन गया।
थोड़ी देर बाद दीपा अपनी चुत को सहलाने लगी। उसे ऐसे देख कर मेरा बुरा हाल होने लगा था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.