Antarvasna Kahniyan, Kamukta, Desi Chudai Kahani
loading...

गावं मे मज़ा लिया भाभी का

प्रेषक : सेंडी

हाय दोस्तों में सेंडी मेरी उम्र 22 साल है मे मुंबई (दादर) मे रहता हूँ मेने इसकी सारी कहानियां  पढ़ी है आज मे अपनी एक कहानी लिख रहा हूँ पसंद आये तो रिप्लाई ज़रूर करना यह बात आज से 3 महीने पुरानी है क्रिसमस की छुट्टी थी और मेरे दोस्त (रवि) के घरवाले उनके गावं  मुझे भी ले गये थे मुझे गावं मे अच्छा लगता है तो हम रात की गाड़ी बेठे और दोपहर को उनके छोटे से गावं मे पहुँच गये हम सिर्फ़ 3 लोग ही गये थे मे रवि की माँ और पापा उनके गावं के घर मे सिर्फ़ उनका चचेरा बेटा और उसकी वाइफ ही रहती थी उनकी उम्र करीब 35-38 साल होगी और क्या गजब का फिगर था 40-39-42 उनके बूब्स तो बड़े बड़े मुझे तो ऐसा लग रहा था की अभी जाकर उनके बूब्स ज़ोर ज़ोर से दबाऊँ और चूस चूस के उनका सारा रस पी जाऊं भाभी काफ़ी फ्रेंकली थी.

मेरी उनसे झट से दोस्ती हो गई मे अब उनके साथ खेत मे भी काम करने जाता था एक दिन मे और भाभी अकेले ही खेत पर काम कर रहे थे तब भाभी काम मे इतनी व्यस्त थी की उनको पता नही था की उनकी साड़ी का पल्लू नीचे गिरा है और उनके बूब्स जैसे ब्लाउज फाड़कर बाहर आना चाहते है मेरा सारा ध्यान उनके बूब्स पर था कुछ देर बाद भाभी ने मेरी नज़र को समझा की में उन्हें देख रहा हूँ और उन्होने कुछ नही कहा और ऐसे ही काम कर रही थी फिर हम दोपहर को खाना खा रहे थे.

तब भाभी ने जानबुझ कर अपनी साड़ी का पल्लू नीचे गिराया और मुझे अपने बूब्स दिखा रही थी मेरा तो लंड अब जागने लगा था और मेरी हाफ पेन्ट में से साफ दिख रहा था और भाभी भी मेरे खड़े लंड को चोरी से देख रही थी खाना खाने के बाद भाभी ने मुझे कहा की मेरी कमर मे ज़रा दर्द हो रहा है की तुम दबा दोगे क्या?’ मेने हाँ क़ह दी और भाभी को लेटने को कहा भाभी लेट गई और मे उनके बाजू मे बेठ कर उनकी आधी नंगी पीठ और कमर पर दबाने लगा मुझे बड़ा अच्छा लग रहा था अब मे सोचने लगा की कैसे भाभी को चोदू फिर भाभी बोली ज़रा ठीक से दबाओ ना अब मे उनके उपर बेठा और कमर को दबाने लगा.

ऐसा करने से मेरा लंड उनकी गांड को टच हो रहा था और मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था और भाभी भी मज़ा ले रही थी और अपनी आँखे बंद करके अपना निचला होठ दांतों मे दबा रही थी अब मेरा लंड पूरा उनकी गांड मे रगड़ लगा रहा था और भाभी भी अब गर्म हो गई थी मेने अब धीरे धीरे अपना हाथ उनकी कमर से होते हुये पीठ पर ले गया और पीठ को दबाने लगा और नीचे उनके बूब्स मेरी उंगलियों को टच हो रहे थे अब भाभी पूरी गर्म हो गई थी और मे भी फिर मेने हिम्मत करके उनके बूब्स को ज़ोर से दबाया भाभी के मुँह से सिसकारी निकली आआआहह  ज़रा आराम से दबाओ ना?  अब मे समझ गया की भाभी भी चुदवाना चाहती है तब मेने उनको सीधा किया और उनके बूब्स को दबाने लगा और उनके लिप पर किस करने लगा उनको किस नही आ रहा था पर मे फिर भी किस कर रहा था.

थोड़ी देर बाद मेने उनका ब्लाउज निकाल दिया और उनके बड़े बड़े बूब्स मेरे सामने आज़ाद हो गये मे पागलो की तरह उन्हे देख रहा था और भाभी बोली  सिर्फ़ देखोगे या इनका रस भी पीओगे  कहते ही मेरे सर को अपने बूब्स पर दबाने लगी मे अब उनकी एक बूब्स को मुँह मे लेकर चूसने लगा और दूसरे को एक हाथ से दबाने लगा क्या मस्त स्वाद था ऐसा लग रहा था की छोड़ मत इन्हें और भाभी तडपती और कहती  हाहहआ और ज़ोर से चूस राजा बड़ा मजा आ रहा है हाईईईई हाँ और मेरे सर को और ज़ोर से अपने बूब्स पर दबाने लगी करीब 10 मिनिट से में उनके बूब्स को चूस रहा था इस दोरान मेने उनकी साड़ी निकाल दी और अब वो मेरे सामने पेटीकोट मे थी और मे उनके पेटीकोट के उपर से ही उनकी चूत को चोदने लगा.

अब उनकी चूत पूरी तरह गीली हो गई थी अब मेने उनको पूरा नंगा कर दिया और उनको खड़ा कर दिया अब भाभी की चूत मेरे सामने थी मेने चूत पर किस की तो उन्होंने आहे भरी और बोली  ये क्या कर रहे हो राजा  अब मे उनके दाने को दातो से दबाने लगा और एक उंगली  उनकी चूत मे डालने लगा उनकी चूत पानी छोड़ रही थी और भाभी हाह्ह्ह्ह मेरी जान क्या कर रहे हो पागल करेगा क्या हाईईइ बड़ा मजा आ रहा है मेरे लाल और चूसो मेरी चूत को हाआअ और जोर से मेरा पानी निकलने वाला है हाँ और हाह्ह्हआ मे आईईईईई बल्ल्लम  और कहते ही झड़ गई और हाफ़ने लगी और मुझे उपर खीच के बोली  हाईईईई इतना मज़ा तो मुझे पहली रात मे भी नही आया था कहा से सीखा.

कहते ही मेरे लंड को पेन्ट के उपर से ही सहलाने लगी और मुझे झट से नंगा कर दिया भाभी अभी झड़ी थी इस वजह से अब मेने उनको फिर से गर्म करने के लिये उनकी चूत को सहलाने लगा और बूब्स को चूसने लगा अब भाभी भी गर्म हो गई थी मेने उनको मेरे लंड को चूसने कहा तो उन्होने मना कर दिया मेने कोई जबरदस्ती नही की और उनके खड़े होते ही अपना लंड उनकी चूत के दरवाजे पर रखा और रगड़ने लगा भाभी बोली अब डाल भी दो क्यो तडपा रहे हो और खुद ही मेरे लंड को पकड़ के चूत पर रखा और मुझे धक्का देने को कहा मेने एक ज़ोरदार शॉट मारा और मेरा आधे से ज्यादा लंड उनकी चूत मे चला गया और वो बोली  हाईईइ क्या धक्का मारा है.

ऐसे ही धक्के मारो मेरे लाल और मेने दूसरा धक्का और तेजी से मारा और मेरा पूरा का पूरा लंड उनकी चूत मे चला गया और ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा करीब 7 मिनिट के बाद भाभी को और मज़ा आने लगा और वो बोल रही थी  हाह्ह्हअ जोर ज़ोर से मेरे राजा मार और मार मिटा दे इस रानी की खुजली हाँ मारे जा क्या मस्त चोदता है तु ऐसा तो कभी मेरे पति ने भी नहीं चोदा मुझे हाँ मेरे लाल मार अपनी दोस्त की भाभी की चूत हाँ मेरे लाल में झड़ने वाली हूँ हाँ और जोर से  कहते ही झड़ गई पर मे झड़ा नही था मेने उनको घोड़ी बनने को कहा और अपने लंड को उनकी गांड के छेद पर रखा और ज़ोरदार शॉट मारा की भाभी चीख निकल गई हरामी क्या गांड फाड़ेगा मेरी आराम से मार हाईईई दया मुझे तो मारररर ही डाला रे.

अब मे उनकी गांड को ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा मेरा अब निकलने वाला था तो मेने उनको पूछा की कहा निकालु तो वो बोली मेरी गांड में ही निकालो और जो दर्द हो रहा है वो मिट जायेगा और मे ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा करीब 2 मिनिट के बाद मे उनकी गांड मे झड़ा और ऐसे ही उनके उपर लेटे रहा 10 मिनिट के बाद हम अलग हुये और भाभी बोली की आज जैसा मज़ा मुझे कभी नही मिला और मुझे किस करने लगी फिर हमने कपड़े पहने और घर आये उसके बाद मेने उनके 3 बार चोदा बड़ा मज़ा आया.

धन्यवाद …

Leave A Reply

Your email address will not be published.