Home / जवान लड़की / शादी मे मस्ती

शादी मे मस्ती

प्रेषक : अंश

हाय दोस्तो ये मेरी पहली कहानी है पहले में आप लोगो को अपने बारे मे बता दूँ में अंश उत्तर प्रदेश के वाराणसी का रहने वाला हूँ मेरी उम्र 30 साल है मेरी लम्बाई 5 फुट 7 इंच है और मेरा लंड जिसे मैने कभी नापा तो नही है फिर भी लगभग 7 इंच लंबा और 3 इंच मोटा होगा दोस्तो में चूत चोदने का बहुत शौकीन हूँ लेकिन उस समय तक सिर्फ़ एक ही लड़की संगीता को पिछले 1 साल से चोद रहा था अब मुझे दूसरी चूत की तलाश थी और कोई चूत चोदने को नही मिल रही थी लेकिन शायद किस्मत मेरे उपर मेहरबान थी.

बात आज से लगभग 8 साल पहले की है में और मेरा एक दोस्त सी.ए की परीक्षा देने लखनऊ गये थे एक हफ्ते बाद जिस दिन हम लोगो को वाराणसी के लिये वापस आना था तो मेरे दोस्त ने कहा की उसको रास्ते मे प्रतापगढ़ एक रिलेटिव के यहा शादी मे शामिल होना है उसके बाद ही वो घर जायेगा हम लोग अपना अपना सामान पेक करके स्टेशन आ गये तो मेरे दोस्त ने कहा की में भी उसके साथ चलूं फिर दूसरे दिन हम साथ ही घर जायेगे तो मैने भी सोचा की चलो अब तो एग्जॉम भी ख़त्म हो गया है तो थोड़ा मूड फ्रेश हो जायेगा  क्योकी वहाँ मस्त मस्त लड़कियां दिखेंगी जब हम लोग दोस्त के रिलेटिव के यहाँ पहुंचे तो सभी लोग अपने अपने काम मे बिज़ी थे हम लोग सबसे मिलने के बाद पास की ही बियर की शॉप पर गये और बियर पी.

फिर जब हम वापस आये तो बारात आ चुकी थी और सब लोग खाना खा रहे थे हम दोनो भी खाना लेकर एक कॉर्नर मे खड़े होकर खाने लगे मैने देखा एक लड़की बार बार मुझे देख कर मुस्कुरा रही है  वैसे में आप लोगो को यह बता दूं की जब हम लोग वहाँ पहुंचे तभी से में उस लड़की को नोटीस कर रहा था उसका नाम रिमा था उसकी उम्र 19 साल थी लेकिन उसकी चूचियाँ और मस्त गांड देख कर में पागल हो रहा था उसके बूब्स 34”, कमर 26” और गांड 38” का था साली क्या कयामत लग रही थी वो बार बार मेरे पास में आती जाती रहती थी और धीरे से सेक्सी स्माइल देकर चली जाती मेरा तो मूड इतना खराब हो गया था की उसको वही गिरा कर चोदने का दिल कर रहा था लेकिन ऐसा करना मेरे लिये संभव नही था.

रात को 12 बजे के आस पास जब शादी की रस्मे चल रही थी उस समय अधिकतर लोग सोये थे शादी एक होटल से हो रही थी जहाँ 2 बड़े हॉल भी थे जिसमे घर के और रिश्तेदारी के लोग सोये थे हम दोनो दोस्त भी खाली जगह पर जा कर लेट गये दोस्त को तो नींद आ गयी लेकिन मेरी आँखो के सामने बार-बार रिमा के बड़े-बड़े बूब्स और मस्त गांड आ ही जाते थे में अपनी आँख बंद करके रिमा की गांड की कल्पना करते हुये पेन्ट के अंदर हाथ डाल कर अपने लंड को मसल रहा था थोड़ी देर बाद मुझे महसूस हुआ की कोई मेरे उपर पत्थर के छोटे टुकड़े फेंक रहा है मैने आँख खोल कर देखा तो वही लड़की यानी रिमा मुझसे कुछ दूरी पर लेटी है लेकिन में देख नही पाया की पत्थर किसी ने जानबुझ कर मेरे उपर फेंका है या ग़लती से आ गया.

में जहाँ सोया था मेरे राइट हैण्ड साइड मे मेरा दोस्त और लेफ्ट हैण्ड साइड मे एक 5-6 साल का लड़का फिर उसके बगल मे रिमा लेटी थी अब तो मेरा दिल ज़ोर ज़ोर से धड़कने लगा था वो एक स्कर्ट और टी-शर्ट पहने हुई थी क्या ग़ज़ब की माल थी दोस्तो मैने हिम्मत करके अपना हाथ उसकी स्कर्ट तक पहुँचाया और मेरा हाथ उसकी गोरी और मखमली जाँघो से टच हुआ तो मेंने घबरा कर अपना हाथ हटा लिया 5 मिनिट तक में सोचता ही रहा की पता नही उसका क्या रिएक्शन होगा लेकिन तभी मैने देखा की रिमा उठकर पत्थर का एक टुकड़ा मेरे उपर फेंक रही है  तो में कन्फर्म हो गया की ये लड़की तो मुझे अपनी मक्खन जैसी चूत मेरे नाम कर देगी वो पत्थर का टुकड़ा मेरे उपर फेंक कर मेरे बगल मे आकर मेरे पैर की तरफ अपना सर और मेरे सर की तरफ अपने पैर करके लेट गयी बस फिर क्या था.

मैने बिना देर किये अपना हाथ उसकी स्कर्ट मे डाल दिया और वाउ! क्या चिकनी जांघे थी उसकी में उसकी जांघो को सहलाते हुये उसकी आगे की तरह गर्म हो चुकी चूत पर पेंटी के उपर से ही हाथ लगाया तो वो बुरी तरह भींग चुकी थी यानी उसकी चूत बहुत पानी छोड़ रही थी में उसकी पेंटी की साइड से दो उंगलियाँ डाल कर उसकी चूत की फांको को सहलाने लगा उसकी चूत एकदम साफ और चिकनी थी उस पर अभी छोटी छोटी झांटे आनी शुरू हुई थी तभी उसने मेरे पेन्ट का जीप खोल के मेरा लंड बाहर निकाल कर सहलाने लगी अब सब कुछ मेरे सहन के बाहर हो रहा था लेकिन में रिमा के साथ चुदाई का ना बोलने वाला मज़ा लेना चाहता था क्योकी कुछ लोग शादी मे बिज़ी थे और बाकी सो रहे थे.

अब मैने उसके स्कर्ट को उपर उसकी कमर तक हटा दिया और उसकी जांघो और चूत के आस पास चूमने और जीभ से चाटने लगा वो बार बार अपनी गांड को उपर उठा रही थी  लेकिन में  उसको गर्म करके चोदना चाहता था वो मेरे लंड को बहुत प्यार से सहला और चूम रही थी आहह क्या मखमली हाथ थे उस साली के अब मैने उसकी पेंटी को नीचे सरका कर उसकी चूत को ज़ोर-ज़ोर से चाटना शुरू किया तो वो भी अपनी गांड को उठा उठा कर अपनी चूत चटवा रही थी वो सिसकियाँ ले रही थी लेकिन बहुत धीर-धीरे क्योकी किसी के भी जागने का डर था वैसे तो उस होल की लाइट रिमा ने पहले ही ऑफ कर दी थी फिर भी में नही चाहता था की मेरा मज़ा खराब हो.

अब वो उठ कर मेरी तरफ मुँह करके लेटी और मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चूत पर रगड़ने लगी में भी उसकी चूत मे अपनी दो उंगलियाँ डालकर हाथ से चोद रहा था और उसके बड़े बड़े 34 साइज की चूचियों को पकड़ कर उसके निपल को चूस रहा था वो आअहह में मर जाउंगी जल्दी से मेरी चूत मे अपना लंड डाल दो चोदो ना मुझे क्यों तड़पाते हो जानू पेलो ना बोलती जा रही थी तब मैने कहा साली पहले मेरे लंड को चूस कर उसका अमृत पी और में तेरी चूत का अमृत पीता हूँ अब हम फिर से 69 की पोज़िशन मे आ गये और वो मेरे लंड को एक अनुभवी रांड की तरह चूस रही थी 10-15 मिनिट मे में आआहह मेरी जान में तो गया रे मुँह मे रिमा बोली जानू सब मेरे मुँह मे गिरा दो में पीऊगी इस अमृत को और में उसके मुँह मे ही झड़ गया और वो तब तक मेरे चूत चूसने से दो बार मेरे मुँह मे झड़ चुकी थी.

मैने कहा जान अब तो तेरी चूत को फाडूगां तो रिमा ने कहा जानू में भी अपनी चूत फड़वाना चाहती हूँ तुमने आज जो आग लगाई है अब तो चाहे मेरी चूत रहे या फटे तुम चोदो मैने फिर से अपना लंड उसके मुँह मे डाला और वो मज़े से चूसने लगी और में उसकी चूत को अपनी जीभ से चोद रहा था कुछ ही देर मे मेरा लंड फिर से सलामी देने लगा और रिमा भी चुदवाने के  लिये पागल हो गयी थी मैने उसको सीधा लेटाकर उसके पैरो को फैलाकर उसकी चूत को अपने लंड से रगड़ने लगा तो रिमा बोली जानू क्यों तडपा रहे हो अब डाल भी दो ना फिर मैने लंड का गुलाबी सूपड़ा उसकी चूत पर रख कर एक झटका मारा तो वो आधा चला गया क्योंकी वो पहले भी चुदवा चुकी थी फिर जब मैने दूसरा धक्का मारा तो वो धीरे से चिल्लाई तभी मैने उसके मुँह को अपने हाथ से दबा दिया वरना कोई ना कोई जाग जाता.

अब मेंने उसको धीरे-धीरे चोदना स्टार्ट किया वो सिसकारियाँ भर रही थी और बहुत ही सेक्सी लग रही थी ओह आअहह जानू आज लगता है में पहली बार चुद रही हूँ आआहह आज तक मुझे वो ऐसे नही चोद पाया साला गांडू अपना तो मज़ा ले लेता था आज मुझे पता चला की चुदाई क्या होती है चोदो मेरे बलम तुम ही तो मेरे बलम बनोगे अब मुझे तुम ही चोदोगे आअहह मेरे राजा जोर-ज़ोर से करो फाड़ दो मेरी इस चूत को साली बहुत तड़पति है आह जोर से में गई  आअहह! और वो मुझे कस के पकड़ कर चिपक गयी और में उसको जोर जोर से चोदे जा रहा था क्योकी मेरा भी गिरने वाला था ऊऊहह मेरी जान रिमा कितनी पटाखा माल है रे तू आअहह.

अब तो तू ही मेरी रानी बनेगी जानू आआहह जान में भी गया कहाँ लो गी इस अमृत को चूत मे या मुँह मे तो उसने कहा जानू ये अमृत मेरे मुँह मे ही डालना और मैने 10-12 ज़ोर के स्ट्रोक दिये और लंड को बाहर निकाल कर उसके मुँह मे डाल दिया और वो मेरे लंड के अमृत को बड़े ही प्यार से पी रही थी ये सब करने मे 3 बज गये थे और शादी की रस्मे भी लगभग पूरी हो गयी थी मैने उससे उसका मोबाइल नम्बर लिया और अपना नम्बर उसको ..!

धन्यवाद …