Home / घर में चुदाई का खेल / सहेली ने मनवाई मेरी सुहागरात

सहेली ने मनवाई मेरी सुहागरात

Saheli ne manwayi meri suhagraat

प्रेषक : मोना

मेंरा नाम मोना है में पंजाब की रहने वाली हूँ मेंरा साइज़ है 34-28-34 है ब्लेक लम्बे बाल और  कलर फेयर है और बहुत सुन्दर हूँ सिटी के सारे लड़के मेंरे पीछे पागल है एक दिन की बात है की मेंरी सहेली ऋतु का मुझको फोन आया हम काफ़ी देर तक बाते करते रहे उसकी अभी अभी शादी हुई थी उसने मुझको कहा की वो और  उसका पति हर रोज़ सेक्स करते है बहुत मज़ा आता है उसने कहा की अब तो में एक दिन भी सेक्स के बिना नही रह सकती बातो बातो में मेंरे अरमान भी जाग गये उसने मुझको कहा की क्या तुम ने कभी सेक्स इन्जॉय नही किया  मैने कहा की नही. ऋतु बोली मन तो करता होगा. मैंने कहा हाँ पर में अपनी चूत अपने पति को ही दूंगी उसके लिये संभाल कर रखी हुई है उसने कहा तेरा कुछ नही हो सकता तू पुराने ख्यालो वाली लड़की हो.

मैने कहा कुछ भी हो में करूगी तो अपने पति के साथ ही नही तो नही उसने कहा एक काम कर मेंरे साथ लेयास्बिन कर ले तेरे को थोड़ी रिलीफ मिल जायेगी मैने उसको कहा की में सोच कर बता दूंगी में सारा दिन सोचती रही आखिर मैने हाँ कर दी ओर उसको फोन कर दिया मैंने   कहा तेरा पति कुछ नही कहेगा उसने कहा की हम उनको पता ही नही चलने देगे मैंने कहा वो कैसे उसने कहा की कल सुबह तुम मेंरे पास आ जाना मेरा पति सुबह ऑफीस चला जाता है शाम को घर आता है उस वक्त तक हम बहुत बार अपना काम कर लेगे मैने कहा ओके अगले दिन में तैयार हो कर उसके घर को चल पड़ी थोड़ी दूर ही था उसका घर घर का डोर खुला ही था मैने मेरी स्कूटी घर के अंदर ही खड़ी कर दी गाड़ी की आवाज़ सुन कर ऋतु बाहर आ गई.

उसने रेड कलर का नाइट गाउन पहना हुआ था बहुत सेक्सी लग रही थी मुझे वो गले मिली हम दोनो बहुत खुश थी उसकी शादी के बाद हम पहली बार मिल रही थी हम अंदर चले गये उस का घर बहुत अच्छा था इंटर्नल डेकोरेशन वाज़ वेरी गुड हर तरफ़ लकड़ी का वर्क था लगता था उसका पति काफ़ी अमीर था मैंने कहा की तुम्हारा पति करता क्या है तो उसने कहा की हमारा इम्पोर्ट एक्सपोर्ट का बिज़नस है फिर हम दोनो ने चाय पी तो उसने कहा की शुरू करे जिस काम के लिये तुम यहा आई हो मैंने कहा यस वाइ नोट.

मैने कहा ठीक है तुम अपने कपड़े खोल दो और मैंने गेट बंद किया ओर बेडरूम में पहुँच गयी मैंने ग्रीन कलर का टॉप ओर डेनिम पहन रखी थी उसने मुझको बाहों में लिया ओर मेरे लीप पर किस करने लगी पहले तो मुझको थोडा अजीब सा लगा पर फिर मुझको मज़ा आने लगा में भी उसका साथ देने लगी 10 मिनिट तक हम एक दूसरे को लिप्स किस करती रही 10 मिनिट के बाद हमने एक दूसरे को छोड़ा ऋतु कहने लगी ऐसे मज़ा नही आता बिल्कुल नंगी होते है मैंने कहा ठीक है वो कहने लगी पहले में नंगी होती हूँ फिर तुम होना ओर एक झटके में उसने अपनी नाइट गाउन को अपने बदन से अलग कर दिया उसने नीचे कुछ नही पहन रखा था मैंने कहा यह क्या है वो कहने लगी में तो ऐसे ही रहती हूँ उसका साइज़ 36  था निपल ब्राउन थे उसके बूब्स शेप में थे.

अब मेंरी बारी थी मैंने अपना टॉप निकाला फिर डेनिम निकाली अब में सिर्फ़ ब्रा पेंटी में थी मैने ब्लेक कलर का अंडरगार्मेंट्स पहन रखा था में अपनी ब्रा के हुक खोलने लगी तो वो बोली ऐसे नही में खोलती हूँ अपने आप तो हम सभी लड़कियां रोज़ खोलती है लेकिन दूसरे के हाथो से खुलवाने का अपना ही मज़ा है मैने कहा ठीक है तो वो मेरी ब्रा खोलने लगी जब उसकी उंगलियों ने मेरी पीठ को टच किया तो मेरे बदन के अंदर सिहरन होने लगी ओर उसका निपल मेरे बदन को टच कर रहा था में काफ़ी एग्ज़ाइटेड हो गई थी फिर उसने मेंरी पेंटी उतार दी ओर मेरी चूत पर हाथ रख दिया में तो मानो जन्नत में पहुँच गई फिर उसने मुझको सीधा किया ओर मेरे लिप्स पर अपने लिप रख दिये उसका मुँह ओर मेंरा मुँह आपस में टच हो रहे थे उसके निपल मेंरे निपल को टच कर रहे थे में तो मानो सातवे आसमान पर थी.

फिर उसने मेंरे लिप्स छोड़े ओर मेंरी गर्दन पर किस करने लगी फिर उसने मेरे राइट बूब्स को अपने हाथ में पकड़ लिया ओर लेफ्ट बूब्स को सक करना शुरू कर दिया मेरी चूत में तो बस पानी पानी हो रहा थी फिर उसने मेरी चूत चाटनी शुरू की कभी वो मेरी चूत के लिप्स को किस करती तो कभी चाट लेती काफ़ी देर तक वो ऐसा ही करती रही मुझे महसूस हुआ की मुझे काफ़ी मज़ा आ रहा है में सिकुड़ने लगी ओर मेंरी चूत ने मेरा पानी छोड़ दिया ऐसा मेरे साथ जिंदगी में पहली बार हुआ था मेरा काम हो चुका था ओर में जन्नत में पहुँच गई थी फिर ऋतु ने मुझको सहारा दे कर उठाया ओर कहा की जेसा मैने उसके साथ किया है वेसा में भी उसके साथ करू तो में भी शुरू हो गई सब कुछ ठीक था पर मुझे चूत चाटने में थोड़ी परेशानी हो रही थी.

जब मैने उसकी चूत पर अपना लिप्स रखा तो वो आहा हह करने लगी उसकी चूत का टेस्ट नमकीन था में भी कभी उसकी चूत के लिप्स को किस करती कभी कभी चाट लेती आखिर थोड़ी देर में उसने पानी छोड़ दिया मैंने उसका सारा पानी पी लिया फिर हम दोनो ने लिप किस किया ओर रिलेक्स हो गये फिर उसने मुझे कहा की कैसा लगा मज़ा आया मैने कहा हाँ बहुत मजा आया उसने कहा लड़की के साथ इतना मज़ा आया तो लड़के के साथ कितना आता होगा मैने कहा मेरे से ज्यादा तुम को पता है तो वो बोली क्या तू लड़के के साथ मज़ा करना चाहती हो तो मैने कहा करना तो चाहती हूँ पर मेरे मन की तमन्ना है की में अपनी चूत में पहला ओर आखरी लंड अपने पति का ही डलवाऊँ तो वो कहने लगी मैंने कब कहा की तू किसी और का डलवा शादी करके डलवा ले मैने कहा की लड़का भी अच्छा होना चाहिये ऋतु बोली लड़का तो है अच्छा भी है मैने कहा कोंन है ऋतु बोली मेरा देवर है बहुत सुन्दर है ओर तुझे पसंद भी करता है.

उसने तुझे मेरी शादी में देखा था ओर तब से वो तेरा दीवाना है लेसबियन वर्क तो बहाना था तुम से बात करने का असल मे में तुम्हारे साथ तुम्हारी शादी की बात करना चाहती थी अगर तुम हाँ करो तो में बात तुम्हारे पापा मम्मी से करूँ लड़का सुन्दर था ओर अमीर था तो मैने हाँ कर दी ओर कहा की पापा मम्मी से बात करने का काम तुम्हारा तो इस तरह से उसने मेरी शादी की बात चला दी बात बड़ने लगी हमारी शादी फिक्स हो गई फोन पर बाते होने लगी हमारी मुलाकात भी हुई पर उसको मैने किस से ज्यादा कुछ नही करने दिया आखिर मेरी सुहागरात का दिन भी आ गया मुझे ऋतु ने मेंरे बेडरूम में पहुँचा दिया ओर बेस्ट ऑफ लक कह कर चली गई.

थोड़ी देर में मोनू (मेरे पति) अंदर आये पास में दूध का गिलास रखा था मैने उसको दूध पिलाया उसने पी लिया मैने रेड कलर का लहंगा चोली पहन रखा था नीचे मैने बहुत सेक्सी रेड कलर की ब्रा-पेंटी पहन रखी थी उसने कहा आर यू रेडी मैने शर्म से अपना सिर झुका दिया उसने अपने हाथ से मेरा फेस अपनी तरफ़ घुमाया ओर अपना होठ मेंरे होठो पर रख दिया मेंरे तो जेसे अंदर आग लग रही थी बहुत प्यासी थी में में भी उसे किस करने लगी काफ़ी देर तक हमने फ्रेंच किस किया फिर उसने अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी मैंने उसकी जीभ को चूसना शुरू कर दिया मुझे बहुत मज़ा आ रहा था पर अंदर से डर भी लग रहा था की मेंरी चूत पर जब ये अपना लंड रखेगा तब क्या होगा.

फिर मैने डरना बंद किया ओर अपने मन को कहा पगली आज नही तो कल मोनू तुम्हारी सील तोड़ेगा ही फिर आज क्यों नही फिर उसने मेरा चोली खोलना शुरू किया ओर धीरे धीरे उतार दिया अब में लहंगा ओर ब्रा में थी रेड कलर की सेक्सी ब्रा में मेरे बूब्स बहुत ज्यादा कयामत लग रहे थे वो भूखे शेर की तरह उन पर टूट पड़ा एक झटके में उसने ब्रा भी खोल दी मेरे दोनों बूब्स उसके सामने नंगे थे मेरे पिंक निपल देख कर वो मस्त हो गया और मुझे कहने लगा ओ आई एम वेरी लकी जो तेरी जैसी खूबसूरत बॉडी मुझे मिली में शर्मा गई फिर उसने दोनों हाथो से मेंरे बूब्स को दबाने लगा मुझे थोडा दर्द हो रहा था में हह्ह्ह्ह की आवाज़ निकाल रही थी पर मुझे मज़ा आ रहा था फिर वो एक एक करके मेंरे बूब्स चूसने लगा मेरी चूत गीली होने लगी जेसे जेसे वो मेंरे बूब्स चूसता वेसे ही में अहह अहह करने लगती फिर उसने मेंरे बूब्स छोड़े ओर मेरी गर्दन पर किस करने लगा में तो बस ओह नहीं बसस्स करो करने लगी

फिर उसने मेरा लहंगा उपर किया मेरी रेड कलर की बिकनी उसे साफ दिखाई दे रही थी और 2 मिनिट तक वो उसे देखता रहा फिर उसने मेरी गांड थोड़ी उपर उठाई ओर मेंरी पेंटी को हटा डाला ओर खीच कर उतार दी मेरी वेल शेप्ड पिंक पुसी को देख कर वो पागल हो गया ओर बिना रुके उसने अपने लिप्स मेरी पुसी लिप्स पर रख दिये में बस मस्त हो गई अब तो मेरा मन भी कर रहा था की मेरे अंदर लंड डाले मेरी चूत बिल्कुल गीली हो चुकी थे  फिर उसने अपनी उंगली चूत में डाली पर चूत टाइट होने की वजह से उंगली बहुत मुश्किल से अंदर गई मुझको थोडा दर्द हुआ पहली बार कोई चीज मेरी चूत के अंदर गई थी मेंने उउउइइ माआ की आवाज़ निकाली मगर मोनू ने मेरी दर्द की तरफ़ कोई ध्यान नही दिया वो उंगली अंदर बाहर करने लगा

अब दर्द भी कम हो चुका तो में थोड़ी देर में झड़ने वाली थी में सिकुड़ने लगी मोनू को पता चल गया की में झड़ने वाली हूँ तो उसने स्पीड ओर तेज कर दी मेंने अपनी आवाज़ ओर तेज़ कर दी ओर मेंरा पानी निकल गया आहह अब बारी फाइनल राउंड की थी अब मोनू उठ के खड़ा हुआ ओर मेंरी तरफ़ पागल कुत्ते की तरह देखने लगा उसने अपने कपड़े निकालने शुरू किये लास्ट मैं अंडरवेयर रह गया उसका खड़ा हुआ लंड मुझे साफ दिखाई दे रहा था उसने मुझे कहा तुम मेरा अंडरवेयर निकालो मैने जब थोडा अंडरवेयर नीचे किया तो उसका लंड एक झटके में बाहर आ गया.

में तो देख कर दंग रह गई की आदमी का लंड इतना बड़ा भी होता है मोनू का लंड 8 इंच का है ओर मोटा तकरीबन 2.5″ इंच है पर एक बात है मोनू का लंड काफ़ी गोरा ओर साफ है मुझे काफ़ी सुन्दर लगा उसने सारे बाल शेव किये थे जब मैने उसका अंडरवेयर नीचे किया तो उसका लंड मुझे मेरे फेस पर टच कर रहा था तो मोनू ने कहा पकड़ोगी नही तो मैंने अपने हाथ से उसका लंड पकड़ लिया मुझे लगा जेसे मैने कोई गर्म चीज़ पकड़ ली हो बहुत सख़्त था में एग्ज़ाइटेड भी थी ओर डर भी लग रहा था उसने कहा मुँह में नही लो गी तो में शर्मा गई मन तो कर रहा था की पूरा का पूरा खा जाऊं पर मुझे शर्म आ रही थी तो मैंने कुछ जवाब नही दिया तो उसने कहा की इस पर एक किस तो कर दो मैने अपना कपकपाता होठ उस पर रख दिया मुझे लगा जेसे मैने गर्म गुलाब जामुन को टच किया है वो कुछ नही बोला और मुझे कहा की आज के लिये इतना काफ़ी है तुम कहा बागी जा रही हो सकिंग तो सारी जिंदगी करोगी तुमसे तो आज हमारी सुहागरात है जो पहले जरुरी काम है वो तो पूरा करू.

पहले तो उसने मुझको सीधा लेटा दिया ओर मेरे पैर फेला दिये और अपने लंड को हाथ में पकड़ कर मेरे पेरो के बीच में आ गया उसने अपना लंड मेरी चूत पर रखा पर मेंरी चूत बहुत टाइट थी अंदर जाने का नाम ही नही ले रहा था वो थोडा सा ज़ोर लगाता तो मेरी चीख निकल जाती 10 मिनिट तक कोशिश करने के बाद भी थोडा सा लंड भी अंदर नही गया तो वो उदास हो गया मैंने कहा क्या हुआ तो वो बोला में तुम को उदास नही करना चाहता तुम थोड़ा तो मेरा साथ दो तो मैंने कहा में अब नही चिलाउंगी तो वो फिर मेरी टांगो के बीच में आ गया मैने  कहा तुम थोड़ी सी क्रीम लगा लो तो उसने कहा की मेरे पास तो कोई क्रीम नही है तो मैने अपने पर्स मे से उस कोल्ड क्रीम निकाल कर दी उसने अपने लंड पर लगा ली ओर मारने लगा धक्का क्रीम की वजह से लंड थोड़ा चिकना हो गया.

उसने एक झटका लगाया लंड थोड़ा अन्दर चला गया मेरी चीख निकली तो उसने मेंरे मुँह पर हाथ रख दिया मुझे बहुत दर्द हो रहा था उपर से वो ओर ज़ोर लगा रहा था मेरी आँखों से आंसू निकलने लगे मुझे लगा में जैसे मर जाउंगी अब उस का लंड मेंरे अंदर आधा जा चुका था अब उसने ज़ोर लगाना बंद कर दिया और मुझसे पूछा केसा लग रहा है मुझसे बोला नही गया मैंने सिर ना में हिला दिया वो बोला थोड़ी देर रुक ओर आधे लंड को ही आगे पीछे करने लगा थोड़ी देर ऐसा करने के बाद में थोड़ी रिलॅक्स हुई तो मेंरी आवाज़ से अहह आह करने लगी तो वो समझ गया की में थोड़ी ठीक हूँ.

अब उसने धक्को की स्पीड बड़ा दी 20- 25 धक्के लगाने के बाद एक बहुत ज़ोर का धक्का मारा ओर सारा का सारा लंड मेंरी चूत के अंदर चला गया में चीखी ओईईईई माआ मैं मररररर गईईईईईई में रोने लगी बहुत दर्द हो रहा है इसको जल्दी से बाहर निकालो में मर जाउंगी वो थोड़ी देर रुक गया पर उसने बाहर नही निकाला मुझे रिलॅक्स होने दिया जब मेंने रोना बंद किया तो उसने धीरे धीरे से धक्का मारना शुरू किया मुझे बहुत दर्द हो रहा था पर वो तो रुकने का नाम नही ले रहा था जब मेरा दर्द कम हुआ तो में अहहहह आहह के साथ उसके साथ ताल मिलाने लगी मोनू समझ गया की अब मुझे दर्द नही हो रहा है मज़ा आ रहा है तो यह सोच कर उसने स्पीड बड़ा दी मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा था में अपनी गांड उपर उछाल कर साथ देने लगी.

थोड़ी देर में में पानी छोड़ने लगी मेरा काम हो चुका था पर मोनू अभी भी धक्के लगा रहा था मैने कहा मेरा काम हो चुका है तुम प्लीज़ जल्दी करो ऊऊ उसका बदन गर्म था आखिरकार  उसने अपनी स्पीड़ और बड़ा दी मुझे ऐसे लग रहा था की जेसे रेल इंजन चल रहा है आखरी में  उसने एक ओर झटका लगाया ओर उसने सारा का सारा पानी मेरी चूत के अंदर छोड़ दिया उस का गर्म गर्म पानी मेरे अंदर जाते ही मुझे अजीब सी संतुष्टि हुई मैंने आँखे बंद कर ली खोलने का मन नही कर रहा था मोनू मेरे उपर लेटा रहा 10 मिनिट के बाद हम एक दूसरे से अलग हुये मुझसे हिला नही जा रहा था तो मोनू ने मुझ को खीच कर सहारा दिया.

मैने चूत पर हाथ लगा कर देखा तो उसमें से खून ओर पानी निकल रहा था मुझे मोनू ने कहा की इसको तुम बाथरूम में जा कर साफ़ कर लो तब तक में चादर चेंज करता हूँ मैंने कहा की मुझसे तो हिला भी नही जा रहा तो मोनू ने मुझे बाहों में उठा लिया ओर मुझे बाथरूम में ले गया ओर अपने हाथो से मेरी चूत साफ करने लगा गर्म गर्म पानी डालते ही मुझे कुछ आराम मिला तो वो बोला मोना केसा लगा में शर्म के मारे कुछ नही बोली मुझे मज़ा तो बहुत आया पर में कुछ ना बोली साफ करने के बाद मोनू ने मुझे अच्छे से साफ़ किया ओर हम दोनो फिर बेड की तरफ़ चल दिये पर मुझसे चला नही जा रहा था में लंगडा कर चल रही थी बेड पर जाते ही में सो गई तकरीबन एक घंटे बाद मुझे लगा की मेरे कोई बूब्स दबा रहा है.

मैने देखा तो वो मोनू था मैने कहा क्या कर रहे हो तो वो बोला दुबारा मन कर रहा है तो हम फिर शुरू हो गये उस रात हमने 2 बार और सेक्स किया मुझे बहुत मज़ा आया इस तरह मेरी रोज़ 2 बार चुदाई होने लगी संडे को तो 3 बार फिर में और ऋतु कभी लेसबियन वर्क भी कर लेते थे यह तो थी मेंरी सुहागरात की कहानी .

धन्यवाद …