Home / घर में चुदाई का खेल / नैना ने अपनी माँ को चुदवाया

नैना ने अपनी माँ को चुदवाया

प्रेषक : राज
हेलो फ्रेंड्स में फिर से आपके लिये नई स्टोरी लेकर आया हूँ मेरा नाम राज है और मैं मुरादाबाद में रहता हूँ ये मेरी नई और सच्ची स्टोरी है बात पिछले हफ्ते की है मैं किसी काम से नैना के घर गया था वहाँ पर नैना अकेली थी तो मैं उसके बूब्स मसलने लगा और उसके कपड़े उतारने लगा तो नैना बोली की मम्मी पड़ोस में ही गई है आ जायेगी कम से कम दरवाजा तो बंद कर लो और नैना दरवाजा बंद करने जाने लगी और में उसके पीछे था उसके कुर्ते के अंदर हाथ डाला हुआ था और बूब्स मसल रहा था इतने में ही दरवाजा खुला और मंजू भाभी अंदर आ गई और मुझे नैना के साथ मज़े करते हुये देख लिया और भाभी गुस्से से लाल पीली होने लगी और बोली की अभी तेरे भाई और मम्मी को फोन करके बुलाती हूँ और ऐसा कह कर वो अंदर कमरे में चली गई फोन करने के लिये. नैना बोली की कैसे भी करके मम्मी को रोको नही तो पापा तो मुझे मार ही डालेंगे तो मैने कहा की आज तेरी माँ को चोद देता हूँ तो अपने आप ही उसका मुँह बंद हो जायेगा.

नैना काफ़ी खुश हुई और बोली की मेरे सामने ही चोदना। मैं मम्मी को चुदते हुये देखूँगी तो मैने नैना से कहा की भाभी का मुँह बंद करने के लिये कोई कपड़ा ले आ तो वो जल्दी से अपनी चुन्नी ले आई वैसे मैं आपको भाभी का सेक्सी फिगर बताना तो भूल ही गया भाभी के दूध 38 के है सांवली है और बहुत ही सेक्सी लगती है मेरा बहुत दिनो से इसे चोदने का मन था नैना और मैं दोनो अंदर कमरे मे गये तो भाभी फोन लगा ही रही थी तो मैने फोन छीन लिया और भाभी को बेड पर धक्का दिया और उसके उपर बैठ गया और उसके हाथ पकड़ लिये नैना ने जल्दी से मंजू (भाभी) का मुँह बांध दिया अब वो नहीं नहीं कर रही थी.

अब नैना से मैने कहा की मंजू के हाथ पकड़ ले तो नैना ने मंजू के हाथ कस के पकड़ लिये और मैं मंजू के दूध दबाने लगा और कस के मसलने लगा मंजू काफ़ी उछल कूद मचा रही थी मैं मंजू के उपर बैठा था और मैं मंजू के कपड़े उतारने लगा धीरे धीरे मैने मंजू को बिल्कुल नंगा कर दिया मंजू बहुत ही सेक्सी लग रही थी अभी भी उसके बूब्स काफ़ी टाइट थे मैं उसके बूब्स को चूसने लगा अभी भी मंजू मुझसे छूटने की कोशिश कर रही थी थोड़ी देर बूब्स चूसने के बाद मैने मंजू की चूत पर अपनी जीभ रखी और हल्के हल्के से उसे चाटने लगा अब मंजू का शरीर अकड़ने लगा और धीरे धीरे मंजू गर्म होने लगी तो मुझे लगा की मंजू को मज़ा आने लगा है मैने नैना से कहा की इसका मुँह खोल दे तो नैना ने उसका मुँह खोल दिया और हाथ भी छोड़ दिये मैं अभी भी उसकी चूत चाट रहा था और मंजू आहा आहा आहा उहू उहू उहू उहू अऔच सीईईई कर रही थी.

अब मंजू को पूरी तरह से मज़ा आने लगा था और वो नैना से कह रही थी की हरामजादी तू कितने दिनो से अकेली मज़े ले रही है साली रंडी मुझे नही बता सकती थी क्या तेरे बाप ने तो कभी भी मेरी चूत नही चाटी और आज तक मुझे पता ही नही की चूत चटवाने मे इतना मज़ा आता है और तू सारा मज़ा अकेले ही ले रही है मैने चाट चाट कर मंजू की चूत को लाल कर दिया था अब मंजू बोली की मेरे राजा अब और मत तडपा जल्दी से अपने लंड से मेरी चूत की आग को ठंडा कर दे मैने अपनी उंगली मंजू की चूत मे डाल दी और अंदर बाहर करने लगा मंजू अपने हाथो से अपने दूध दबा रही थी अब मैने उसके रसीले होठों को चूसना शुरू किया और 15 मिनिट तक उसके होठ चूसता रहा और दूध पीता रहा अब वो बोली की अब बिल्कुल सहा नही जा रहा है जल्दी कर तो मैने अपना लंड उसकी चूत के उपर रखा तो वो सिसकियाँ लेने लगी.

थोड़ी देर ऊपर से सहलाने के बाद मैने अपना लंड उसकी चूत मे डाल दिया मंजू आहा आहा आहा उम उम उम उम कर रही थी मैने ज़ोर से धक्का मारा तो मेरा पूरा लंड मंजू की चूत मे समा गया और मंजू की चीख निकल गई नैना हंस रही थी और कह रही थी की मम्मी तुम तो रंडीयों की तरह चिल्ला रही हो तो मंजू नैना से बोली की साली रंडी की तरह चिल्ला कर चुदने मे ही तो मज़ा आता है और वो रंडीयों की तरह चिल्लाने लगी थोड़ी देर मे हम दोनो झड़ गये और मैं मंजू के उपर लेट गया हम दोनो की साँसे काफ़ी तेज चल रही थी मंजू बोली की अब जब भी मैं कहूँ तो तुझे मेरी चूत चाटनी होगी तभी मैं चुप रहूंगी। अब मैं उसके होठ चूसने लगा और उसका मुँह बंद कर दिया अब मैं दोनो माँ बेटियों को खूब चोदता हूँ साली रंडीयों की तरह चुदती है और मुझे बहुत मज़ा आता है.

धन्यवाद …

One comment

  1. any females my watsap no
    chudwane me liye
    9415629974