Home / घर में चुदाई का खेल / मेरे अंदर की औरत की प्यास बुझवाई

मेरे अंदर की औरत की प्यास बुझवाई

प्रेषक : हिना
हेलो फ्रेंड्स में हिना (नाम बदला हुआ) उम्र 24 साल. में लखनऊ से हूँ, में दिखने में सुन्दर कलर गोरा है, लम्बाई 5’11,वजन 81 किलो, और मेरे बूब्स बड़े बड़े और टाइट है में आप को एक मसालेदार स्टोरी बताने जा रही हूँ जो की एक सच्ची घटना है तो दोस्तों मुझे आशा हे की आपको मेरी यह स्टोरी जरुर पसन्द आयेगी. तो अब स्टोरी पर आते है.मैने फेसबुक पर एक मेच्यूर टॉप लड़के से दोस्ती करी उनका नाम विपिन था, और में उनसे काफी खुल गयी थी हम सेक्सी बाते भी करते थे और काफी दिनों तक हम बाते करने लगे और वो वैसे वो जयपुर से थे पर उन्होने बताया की वो अक्सर लखनऊ आते रहते है और 20 तारीख को लखनऊ आ रहे है, तो हमारे बीच यह फिक्स हुआ की जिस होटल मे वो रुकते है वहा  मिलेगे. करीब दो हफ़्ता चेट होने के बाद वो दिन आ ही गया, मैने भी एक रात पहले पूरी बॉडी स्मूद कर ली थी ब्रा-पेंटी और एक नाइट्गाउन अरेंज कर लिया था. 20 तारीख की सुबह हम अपने डिसाइड स्पॉट पर मिले, वो करीब 5’8 के और गोर थे और दिखने में अच्छे थे, हम बाते करते करते उनके होटल के रूम तक पहुचे, मेरा दिल बहुत ज़ोर से धड़क रहा था.

हम रूम मे अन्दर गये मैने अपना बेग जिसमे मेरे फीमेल कपड़े थे कुर्सी पर रखा, इतने मे विपिन ने दरवाजा बंद किया और पीछे मेरे चूचे हल्के से दबा कर गर्दन पर किस लिया और बोले जाओ हिना रानी तैयार हो कर आओ. मै बाथरूम मे गयी जल्दी से शावर लिया, बॉडी पर लोशन लगाया और फिर ब्रा पेंटी पहन ली, ब्रा की फीटिंग बिल्कुल मस्त थी वो मेरे चूचो को दबा के बीच मे धारी बना रही थी, और मेरी टाइट पेंटी मेरे रसीले चूतडो के बीच मे घुस के मेरे चूतडो को और भी मादक बना रही थी, फिर मैने उसके उपर नाइट्गाउन पहना, और नज़ाकत से मटकते हुये रूम मे आई. विपिन जी बेड के ऊपर पर बैठे थे और उनकी पेन्ट मे उनका लंड खड़ा था जो एक बड़ा टेंट बनाये हुये था, मुझे यह देख शर्म आ गयी.

विपिन जी ने मुझे देख बड़ी गंदी तरह से अपना लंड मसला और बोले हाय रानी आज तो तुझे अपने बच्चो की माँ बना दूँगा, और मेरा हाथ पकड़ कर अपनी तरफ खीच लिया, उनका खड़ा लंड सीधे मेरी जांघो के बीच मे घुस गया और मेरे मुँह से आ निकल गयी, विपिन जी ने मुझे चूमना शुरू कर दिया और नाइटी के उपर से ही मेरे बदन पर हाथ रगड़ने लगे, मै लगातार आहे भर रही थी और वो गंदी बाते बोल रहे थे जैसे” हाये क्या माल है, तेरा पति तेरी गर्मी कहा ठंडा कर पाता होगा, मेरी रखैल बन जा, तेरी चूत मे तो लंड डालूँगा, तेरे दूध खाली कर दूँगा और भी बहुत कुछ बोला. फिर उन्होने मुझे अपने सामने खड़ा करके मेरा नाइट गाउन उतार दिया अब मै सिर्फ़ ब्रा पेंटी मे थी, वो मेरे चूतड़ नोचते हुये बोले ज़रा रंडी की तरह नाच के तो दिखा और मेरी गांड पर थपड मारा.
मुझे शर्म तो बहुत आई पर मैने भी उनके सामने अपनी गांड मटकना शुरू कर दी उनके सामने झूक के अपने चूचे दबाये, अपने चूतड़ फैलाकर अपने होल पर पेंटी की स्ट्रिंग की पतली सी डोर भी दिखाई. अब उन्होने मुझे घसीट कर बेड पर पटका और मेरी ब्रा को नीचे कर मेरे चूचे आज़ाद कर दिये और उन पर टूट पड़े, वो उन्हे मसल रहे थे नोच रहे थे काट रहे चूचक ऐसे चूस रहे थे मानो सारा दूध पी जायेगे, मैने भी मस्ती मे उनके लंड को पकड़ के बाहर निकाल लिया काफ़ी बड़ा था ऑलमोस्ट 8  इंच और बहुत हार्ड था मै उनकी मूठ मारने लगी तभी वो उठे और मेरे मुँह मे लंड घुसेड के ज़ोर से मुँह की चुदाई चालु कर दी, मेरे आंसू निकल आये पर वो नही रुके बीच बीच मे तो मेरी साँस रुकी जा रही थी.

फिर 5 मिनिट बाद मेरे बाल पकड़ कर मुँह अलग किया और मेरी आँखों मे देखते हुये बोले, तू मेरी रखैल है, मैने भी जवाब दिया हाँ मै आपकी रखैल हूँ नाजायज़ बीवी हूँ, लूट लो मेरे जिस्म को. फिर उन्होने मुझे बिस्तर पर उल्टा लिटाया और मेरे चूतडो को खोल के पेंटी की डोर को किनारे पर किया और अपना मुँ
ह घुसेड के मेरे छेद को चाटने लगे, मुझे असीमित आनंद मिल रहा था में मजे से पागल हो कर सिसकारियां और आहे भर रही थी, फिर उन्होने ऑयल की बोतल से बहुत सारा ऑयल मेरे चूतडो के बीच छेद पर डाला, ऑयल चूतडो की घाटी के बीच में भर के नीचे बह रहा था.

फिर मेरी होल मे उंगली डाल कर मेरे होल मे उंगली करते रहे, 2 मिनिट बाद मेरे चतड़ो के बीच लंड दबाके रगड़ने लगे और अपने लंड को भी चिकना कर लिया, फिर मेरे होल पर लंड का टोपा रखा, मैने उनसे रिक्वेस्ट की धीरे से करे क्योकि में बहुत कम चुदी हूँ और इतना बड़ा कभी नही लिया था, पर उन्होने मेरी बात अनसुनी करके एक ही ज़ोरदार झटके से मेरी गांड चूत फाड़ दी मेरे मुँह से चीख निकल गयी और मेरा वही बेड पर पेशाब निकल गया. वो यह देखकर बहुत खुश हुये और बोले वाह मेरी रखैल मज़ा आ गया.

फिर उन्होने ज़ोरदार चुदाई शुरू कर दी, में भी मज़ा ले कर चुद रही थी, पर करीब 15 मिनिट की चुदाई के बाद रूम की बेल बजी में डर गयी वो बोले डरो नही रानी मैने खाना मँगवाया था. उन्होने मुझे चादर से ढका उसी हालत मे और खुद पेन्ट पहन कर दरवाज़ा खोला उनका लंड पूरा खड़ा था मुझे बहुत शर्म आ रही थी, वेटर भी सब समझ गया था पर सिर्फ़ स्माइल दे रहा था. विपिन फिर से मेरे पास चादर मे घुस आये और अंदर ही पेन्ट उतार दी, उन्होने वेटर से खाना सर्व करने को कहा, जैसे ही वेटर दूसरी तरफ मुड़ा विपिन जी ने मेरे चूतड़ फैला कर लंड मेरी गांड चूत मे डाल दिया मेरी हल्की सी चीख निकल गयी पर विपिन जी ना रुके और हल्के  हल्के झटके देने लगे लेकिन यह सब चादर के अंदर हो रहा था पर फिर भी वेटर से कुछ ना छुपा था, बेड भी हिल रहा था.
अब में भी बेशर्म हो कर आहे भर रही थी और मोन कर रही थी, वेटर ने खाना सर्व कर दिया और हमारी तरफ घूमा, अब चादर कमर तक नीचे हो चुकी तो उसे मेरी ब्रा मे फंसी नंगी चूचे भी साफ साफ दिख रहे थे फिर विपिन जी ने उसे जाने को कहा और उसे 100 रुपये टिप देकर भेज दिया, फिर मुझसे बोले कैसा लगा मेरी रंडी, मैने शरमाते हुये कहा आप बहुत गंदे हो. वो अब उठे और मुझे बाथरूम मे ले गये फिर मुझे झुका कर मेरी गांड चूत मे लंड घुसेड दिया और मेरे चूचे मसलने लगे, उन्होने बड़ी बेरहमी से मुझे चोदना शुरू कर दिया .

फिर हम दोनो नहाये और सफाई के बाद बेडशीट बदलाई, और खाना ख़ाके थोड़ी देर आराम किया, चुदाई के अलावा विपिन जी बहुत ही पोलाइट और हंबल थे. उसके बाद भी उस रात उन्होने मुझे दो बार और चोदा. मुझे आशा हे आप लोगो को मेरी यह कहानी पसंद आयेगी, विपिन जी 19 जनवरी को फिर आयेगे तो उस एनकाउंटर को भी लिखूँगी.
धन्यवाद..

10 comments

  1. Munjhe chut chahiye
    My no 9519356456

  2. Muje lund chahiye.. tera kitna bada hai. 97932xxx

  3. Sirf dosti karoge chodna nhi aata kya. Muje 8 in ka lund chahiye.. tera kitna bada hai. 97932xxxx

  4. Nice story hamse dosti kareggai what sap no 8718080064