Home / घर में चुदाई का खेल / मौसी की लड़की को गर्म करके चोदा

मौसी की लड़की को गर्म करके चोदा

प्रेषक : रवि

हाय मेरा नाम रवि शर्मा है और में लखनऊ मे रहता हूँ मेरी इस साइट पर पहली स्टोरी है ये मेरी रियल स्टोरी है बाकी जिसे जो समझना हो समझे रियल ओर फेक वैसे में आजकल बहुत चुदसा हो गया हूँ और एक कोई गर्ल या आंटी ढूँढ रहा हूँ जो मेरी गर्मी को कम कर सके और जो लखनऊ की हो अब में स्टोरी शुरू करता हूँ ये स्टोरी पिछले साल की है मेरी मम्मी मेरी मौसी की लड़की काजल को गावं से लेकर आई थी उनके घरेलू काम की हेल्प के लिये पहले तो वो इतनी सुंदर नही थी लेकिन 2 महीने शहर मे और घर के अंदर रहने से वो गोरी और सुंदर हो गयी थी शुरू मे तो मैने उस पर ध्यान नही दिया लेकिन 2 महीने बाद जब वो सुंदर दिखने लगी तो मेरा ध्यान उस पर गया लेकिन फिर भी मेरे मन मे सेक्स की उतनी फीलिंग्स नहीं आई थी उसके लिये लेकिन 15 अगस्त को जब हम शाम को कार से घूमने निकले.

तब एक ऐसा कुछ हो गया जिससे में और वो एक दूसरे की तरफ आकर्षित हो गये हुआ ये की पीछे की सीट पर लेफ्ट विंडो पर मेरे पापा फिर में और मम्मी और राइट विंडो पर काजल बैठी थी कार मेरे चाचा ड्राइव कर रहे थे और उनके बगल मे दूसरा चाचा और मेरा भाई बैठा था तो में इस तरह से बैठा था की मेरा राइट हैण्ड सीट के उपर से जाकर काजल के सिर के पीछे रखा हुआ था मेरी उंगलियां उसके कान के पीछे टच हो रही थी और ये जगह लड़कियों को गर्म करने के लिये बहुत ही अच्छी है तो फर्स्ट में मैने ध्यान नही दिया.

फिर जब मुझे एहसास हुआ की मेरा हाथ उसके कान के पीछे टच हो रहा है तो मैने सोचा की ये तो बहुत देर से ऐसे ही रखा हुआ है तो इसने (काजल) कुछ किया क्यों नही जैसे सिर आगे की तरफ करना या साइड मे होना आदि तो अब मेरा ध्यान केवल काजल पर था की वो क्या कर रही है मैने देखा की वो जानबुझ कर मेरे हाथ से अपना सिर नही हटा रही थी तब मैने सोचा की क्यों ना इसको गर्म किया जाये तो मैने बहुत हिम्मत करके हल्के से अपनी उंगलियों से उसके कान के जस्ट पीछे सहलाया इससे वो और रिलेक्स हो कर पीछे सीट पर सहारा लगा कर मेरी उंगलियों पर अपने सिर का बल दे कर बैठ गयी.

इससे मुझे यकीन हो गया की ये मज़ा ले रही है जिससे मेरी भी हिम्मत बड़ गयी और में उसे सहला कर गर्म करने लगा अब में उसके कान के पीछे के पूरे हिस्से पर गर्दन पर और गाल पर सहलाने लगा अब क्योकी ये सब पीछे की साइड हो रहा था और बहुत धीरे हो रहा था तो किसी को कुछ पता भी नही था में उसे कभी गर्दन पर सहलाता कभी कान के नीचे सहलाता इस तरह से हम दोनो ही बहुत ज़्यादा ही गर्म हो चुके थे ये मैं 1 घंटे से भी ज्यादा समय तक करता रहा और फिर हम डिनर करके रात मे 11.30 बजे पर घर वापस आ गये और फिर सोने की तैयारी करने लगे मैं मेरी मम्मी और काजल एक ही कमरे मे सोते थे हम डबल बेड पर सोते थे और मेरे और काजल के बीच मे मम्मी सोती थी लेकिन अभी तक मेरी और काजल की कोई बात नही हुई थी.

हम केवल एक दूसरे को देख ही रहे थे और मुस्कुरा रहे थे इससे में समझ गया की यार आज तो कुछ हो सकता है हम सब लेट गये और में सब के सोने का इंतज़ार करने लगा रात मे करीब 2  बजे मैने मम्मी को हिला के चेक किया की मम्मी सोई की नही तो मम्मी उस समय  गहरी नींद मे थी तब में धीरे से उठा और काजल के पास गया तो देखा की वो सीधी लेट के  सो रही है तो मैने फिर से उसके कान के पीछे सहलाना शुरू करना ही बेहतर समझा मैने उसके कान के पीछे से उसके बाल हटा कर धीरे से सहलाना शुरू किया तो उसने कोई हलचल नही की मुझे लगा की वो सो रही है पहले तो मैने हाथ से सहलाया और फिर मेंने जीभ से टच किया मेरे टच करते ही उसे एक करंट लगा और वो हल्की सी हिली में समझ गया की वो जाग रही है.

फिर में अपनी जुबान और होठों से कभी उसके कान के पीछे तो कभी गर्दन पर और गालो पर जीभ से सहलाता जिससे उसकी धड़कन और सांसे बडती जा रही थी जो की मुझे फील हो रही थी फिर मैने उसके होठों पर अपने होठ रख दिये जिससे वो हिल गयी और उसकी आँखें खुल गयी और मेरी आँखों से मिल गयी उसे किस करना आता नही था तो में जैसे–जैसे करता वो भी वैसा ही करती में अपनी जुबान उसके मुँह के अंदर डालता और उसकी जुबान को टच करता और उसके होठों को अपने दातों से काटता फिर में धीरे-धीरे अपना हाथ उसकी चूची पर ले गया और उसे दबाने लगा उसकी चूचियां ज़्यादा तो नही लेकिन हाँ मतलब भर की थी जो मेरे हाथ मे आ रही थी और अब में उसे धीरे धीरे दबाता और उसे फ्रेंच किस भी करता जाता.

अब में धीरे से उसके उपर लेट गया और मेरा तना हुआ 6 इंच का लंड उसकी चूत के उपर आ गया जो उसे फील हो रहा था अब उसके मुँह से सीसी की आवाज़ आने लगी लेकिन में उसे किस कर रहा था तो उससे आवाज़ नहीं आ रही थी अब उसने मुझे अपनी बाहों मे जकड़ लिया और मेरी पीठ पर और सिर पर हाथ फेरने लगी इसका मतलब था की अब उसको भी मस्ती चड़ने लगी थी उसने चेन वाला टॉप पहन रखा था जो नीचे तक खुलता था और उसने टॉप के नीचे कुछ भी नही पहन रखा था शायद जानबुझ कर तो मैने उसकी चेन खोल दी और उसकी चूची को हल्के से उजाले (नाइट बल्ब) मे देखने का मज़ा ही कुछ अलग था उसका निपल भी एकदम हार्ड और 1 सेंटीमीटर का हो चुका था चूची देखते ही मैने उसे चाटना शुरू कर दिया उसका निपल चूसने लगा जिससे उसका निपल और बड़ गया और उसकी पकड़ और टाइट हो गयी.

अब में उसे कभी उसकी चूची चाटता तो कभी निपल पर जुबान फेरता इससे उसकी आवाज़ बडती जा रही थी तो मैने अपने एक हाथ से उसका मुँह बंद किया अब वो भी इतने जोश मे आ गयी की उसने मेरा लंड पकड़ लिया मेरी शॉर्ट्स मे हाथ डाल कर उसे हिलाने लगी हम इस समय पूरे जोश मे थे की अचानक मम्मी ने अंगड़ाई ली इससे हम दोनो की तो गांड ही फट गयी और हम जल्दी से अलग हुये और में अपनी जगह पर लेट गया अभी लेटे हुये 5 मिनिट ही हुये होंगे की मम्मी उठी और बाथरूम चली गयी हमने एक दूसरे की तरफ देखा और मैने धीरे से कहा की बच गये वरना आज तो गये थे और फिर हमें कब नींद आ गयी हमें पता ही नही चला.

सुबह जब में उठा तो 9.30 बज रहे थे और सभी लोग कहीं जाने के लिये तैयार हो रहे थे तो मैने मम्मी से पूछा की आप लोग कहा जा रहे हो तो उन्होने कहा की हम ताऊ जी के यहाँ जा रहे है उनके यहा कथा है और मुझसे कहा की तुम काजल को बाइक से ले आना इस पर में मन ही मन खुश हो गया की चलो अब मुझे कुछ देर अकेले मे काजल के साथ टाइम बिताने का मौका मिलेगा तो मैने पूछा की काजल है कहाँ. तो मम्मी ने कहा की वो नहा रही है और फिर मम्मी पापा चले गये और चाचा लोग भी ऑफीस जा चुके थे फिर में जल्दी से फ्रेश होने चला गया ताकि हमें टाइम ज़्यादा मिल सके हमारे घर मे 2 फ्लोर है तो काजल नीचे के बाथरूम मे नहा रही थी और में उपर के बाथरूम मे चला गया में तो जल्दी ही निकल आया था.

तब तक काजल भी निकल आई थी उसने यलो और वाइट मिक्स कलर का सूट पहना हुआ था और आज उसने बाल भी धोये थे गीले बालों मे और उस सूट मे वो और भी सुन्दर लग रही थी में गया और झट से उसे पीछे से पकड़ लिया तो वो पहले तो डर गयी फिर जब उसने मुझे देखा तो मुस्कुरा दी मैने उससे कहा की आज तुम बहुत ही खूबसूरत लग रही हो और फ्रेंड्स  आप जानते ही है की लेडीस की कमज़ोरी उनकी ब्यूटी की तारीफ होती है तो वो मुस्कुराई और कहा की सच मे तो मैने कहा हाँ सच्ची मे और फिर में अपने होठ उसके कान के पीछे गर्दन पर फेरने लगा और चूमने लगा जिससे उसकी आँखें बंद होने लगी और धड़कने बडने लगी और फिर मैने अपना हाथ धीरे से उसकी चूची पर रखा और धीरे-धीरे दबाने लगा उसकी चूची थोड़ी हार्ड थी और निपल भी अब खड़ा होने लगा था.

फिर मैने उसको अपनी तरफ घुमाया तो उसकी नज़रे नीचे की ओर थी उसके होठ बिल्कुल गुलाबी रंग के थे मैने धीरे से उन पर अपने होठ रखे तो उसने भी मुझे रेस्पोन्स दिया और वो मेरे होठ चूसने लगी में उसका नीचे का होठ चूस रहा था और वो मेरा उपर का होठ चूस रही थी क्या बताऊँ फेंड्स क्या मज़ा आ रहा था में कभी उसके होठ चूसता तो कभी उसकी जबान इतना मज़ा मुझे जिंदगी मे कभी नही आया था करीब 15 मिनिट तक किस करने के बाद मैने उसको उठाया और बेड पर लेटा दिया और फिर उसे क़िस करने लगा और फिर किस करते हुये मैने उसका कुर्ता उतारा वाउ क्या चूचीयां थी उसकी दिन के उजाले मे मैने ब्रा के अंदर चूचीयां पहली बार देखी थी और फिर मैने उसकी ब्रा भी उतार दी उसका पिंक कलर का 1.5 सेंटीमीटर का निपल खड़ा हुआ निपल देखकर तो में पागल हो गया और मुँह मे लेकर उसे चूसने लगा.

इससे वो भी जोश मे आ गयी और आहह आहह की आवाज़ें निकालने लगी अब हमे किसी का डर नही था चाहे हम कितनी भी आवाज़ें निकाले क्योकी घर पर तो कोई था नही अब में उठा और उसका सलवार का नाडा खोला और उसे उतार दिया वाउ क्या जांघे थी उसकी एकदम गोरी चिकनी भरी हुई में तो उसकी जांघे ही चाटने लगा इससे वो और भी गर्म हो गयी और मेरा सिर कस के पकड़ लिया में धीरे-धीरे जांघो से किस करता हुआ उसकी चूत तक पहुँचा उसकी चूत की खुशबू इतनी मादक थी की क्या कहना मैने जैसे ही अपनी नाक उसकी चूत पर टच की तो उसके मुँह से ज़ोर से आअहह की आवाज़ निकल पड़ी उसकी पेंटी पूरी गीली हो चुकी थी मैने अपनी जीभ निकाली और उसके चूत रस को चाटने लगा पेंटी के उपर से इससे वो आउट ऑफ कंट्रोल हो गयी और कहने लगी की रवि प्लीज सताओ नही बस अब डाल दो.

फिर मैने कहा की इतनी जल्दी कहाँ अभी तो शुरुआत है उसने कहा की हमें पूजा मे भी जाना है टाइम कम है हमारे पास तो मैने कहा की वो बाद मे देखा जायेगा और में फिर से शुरू हो गया और फिर मैने उसकी पेंटी भी निकाल दी वाउ क्या चूत थी उसकी एकदम गोरी और लिप्स के अंदर गुलाबी और हल्की-हल्की झांटे वाउ पहली बार मैने अपनी लाइफ मे चूत देखी थी मैं तो पागल ही हो गया और झट से उसे मुँह मे ले लिया और चूसने लगा ऐसा करते ही काजल के मुँह से ज़ोर से आहह की आवाज़ आई और फिर वो लगातार तेज तेज आवाज़ें निकालती ही रही और साथ मे कहती भी रहती की चूसो और चूसो मेरी चूत को उसका चूत रस का तो जवाब ही नही था में अपनी जुबान से उसकी चूत को कभी नीचे से उपर और कभी अंदर तक चाटता और वो भी मेरे सिर को पकड़ कर अपनी चूत पर दबाती और कमर उठा-उठा कर मेरा साथ देती.

अब वो पूरी तरह से गर्म हो चुकी थी और मेरे लंड का तो हाल ही बुरा था अंडरवेयर मे वो तन कर एकदम अकड़ चुका था मेरी अंडरवेयर भी मेरे वीर्य से गीली हो चुकी थी और मेरा लंड मेरे वीर्य से गीला हो चुका था फिर मैने अब उसे अपनी जीभ से चाटना शुरू किया में अपनी जुबान निकालकर उसे चोद रहा था इससे वो अपनी कमर उठा उठा कर चुदवाने लगी और कहने लगी की बस अब नही रुका जाता अब प्लीज चोद दो मुझे और फिर मै खड़ा हुआ और मैने उसे इशारे से कहा की तुम मेरी अंडरवेयर उतारो तो उसने झट से मेरी अंडरवेयर उतार दी और मेरा 6 इंच का लंड बाहर निकल आया जिसे उसने झट से पकड़ लिया और कहने लगी की आज मैने पहली बार लंड देखा है इतना बड़ा लंड मेरे अंदर कैसे जायेगा तो मैने कहा की कुछ नही होगा.

फिर मैने उसे लेटाया और एक तकिया उसकी क्मर के नीचे लगाया और मैने थोड़ा उसका चूत रस लिया और अपने वीर्य के साथ मिला कर उसे लंड के उपरी हिस्से पर 3 इंच तक लगाया ताकि लंड आसानी से चूत मे जा सके और फिर मैने अपना लंड जैसे ही उसकी चूत पर रखा उसके मुँह से हह्ह्ह्ह की आवाज़ निकल आई मैने धीरे से अपना लंड आगे की तरफ किया तो उसको थोड़ा सा दर्द हुआ मैने पूछा की दर्द हो रहा है तो उसने कहा की हाँ लेकिन थोड़ा सा तो मैने फिर से जोर लगाया लेकिन थोड़ा तेज़ तो मेरा इस बार लंड का टोपा अंदर चला गया तब उसे दर्द हुआ और उसकी आहह की आवाज़ निकली तो मैने कहा की बस थोड़ा सा और फिर मैने एक तेज़ झटका मारा इससे उसकी दर्द भरी चीख निकली तो मैं रुक गया और उसे किस करने लगा और उसकी चूची दबाने लगा.

2 मिनिट तक ऐसा करने के बाद वो रिलेक्स हुई तो मैने अपना लंड हिलाना शुरू किया मेरा अभी तक 3 इंच ही लंड गया था मेरे ऐसा करने से उसे भी मज़ा आने लगा मेरा 3 इंच ही लंड गया था लेकिन उसकी चूत ने लंड को एकदम जकड़ रखा था इतना मज़ा आ रहा था की क्या बताऊँ जब उसे मज़ा आने लगा तो मैने एक और ज़ोर का झटका मारा और इस बार पूरा लंड अंदर चला गया और फिर मुझे कुछ गर्म सा महसूस हुआ मुझे लग गया की इसकी सील टूट गयी है और खून निकल रहा है मैने झटका मारने से पहले उसके मुँह पर हाथ रख दिया था जिससे उसकी चीख की आवाज़ दब गयी लेकिन उसकी आँखों से आँसू गिरने लगे तो मैने अपना हाथ हटा दिया तो वो कहने लगी की प्लीज इसे निकालो बहुत दर्द हो रहा है तो मैने उससे कहा की थोड़ी देर ही दर्द होगा फिर मज़ा आयेगा और उसे किस करने लगा और उसकी चूची चूसने लगा.

इससे उसे आराम मिला और 2 मिनिट के बाद मैने लंड को हिलाया लेकिन मेरा लंड बहुत ही मुश्किल से हिल पा रहा था क्योकी उसकी चूत ने लंड को पूरा जकड़ रखा था उसकी चूत के अंदर एक भट्टी जितना गर्म था फिर मैने धीरे धीरे लंड हिलाना शुरू किया इससे उसको भी मज़ा आने लगा और फिर जब लंड आसानी से अंदर बाहर होने लगा तो हम दोनो को इतना मज़ा आने लगा की जैसे हमको स्वर्ग मिल गया हो जब लंड अंदर बाहर होता तो छप छप की आवाज़ होती में उसकी चूत मारते समय कभी उसके होठों को चूसता तो कभी बूब्स चूसता मेरा लंड सटासट अंदर बाहर हो रहा था और हम दोनो ही आहह की आवाज़ें निकल रही थी वो भी मेरा कमर उठा उठा कर साथ दे रही थी.

उसने अपनी दोनो टाँगों से मेरी कमर पकड़ ली और कह रही थी की मुझे चोदो और चोदो आहह अहह और अंदर तक डालो अब मेरा लंड आसानी से अंदर बाहर हो रहा था  छप-छप की आवाज़ से पूरा कमरा गूँज रहा था फिर हम दोनो ही क्लाइमेंक्स पर पहुँच गये उसने कहा की मुझे कुछ हो रहा है जैसे कुछ छूटने वाला है अंदर से तो मैने कहा हाँ मुझे भी कुछ ऐसा ही लग रहा है अब हम दोनो की स्पीड और भी बड़ गयी में जब लंड उसकी चूत के अंदर डालता तो वो भी कमर उपर उठाती जिससे लंड पूरा अंदर तक जा रहा था और फिर उसकी आवाज़ आई की में छूटने वाली हूँ और वो आहह की आवाज़ के साथ झड़ गयी और फिर कुछ सेकेंड के बाद में भी झड़ गया और मेरे मुँह से भी एक ज़ोर की आहह निकली और फिर में उसके उपर गिर पड़ा.

हम दोनो ही बहुत थक चुके थे और फिर हमें पता चला की हमें ताऊ जी के यहा जाना है तो हम फिर बाथरूम मे गये और फिर दोनो ही साथ नहाये और फिर हमने अनार का जूस पिया ताकि हम में ताक़त आ सके वहाँ जाने की और फिर हम तैयार होकर निकल पड़े.. तो दोस्तों ये थी मेरी अपनी आपबीती.

धन्यवाद …

8 comments

  1. Mera masat land logo no 8174840776

  2. Real lag rhi bc

  3. Mast kahani I male 9896096218

  4. phone sex karne ko aad karo mob number 893301xxxx

  5. mare bahen to apni chut dekhati hi nhi hai