Home / Uncategorized / Majboor Purvi aur 2 Lund ki Dastaan

Majboor Purvi aur 2 Lund ki Dastaan

प्रेषक : मोन्टी …

हैल्लो दोस्तों, यह मेरी सच्ची घटना है जो मेरी फ्रेंड के साथ घटित हुई और यह अभी कुछ समय पहले घटित हुई। दोस्तों में अहमदाबाद बड़ोदा का रहने वाला हूँ और यह स्टोरी मेरी एक बेस्ट फ्रेंड की है जिसका नाम पूर्वी है, हम दोनों स्कूल टाईम से साथ में है और कॉलेज में भी साथ रहे और पूर्वी एक सीधी साधी अच्छी लड़की है, लेकिन वो दिखने में बहुत ही सेक्सी लगती है उसने अपने शरीर को बहुत सम्भालकर रखा है। उसके फिगर का साईज 34-30-32 है।

दोस्तों हम जब 8th क्लास में थे तब उसको प्यार हो गया और उसका बॉयफ्रेंड बहुत अच्छा था। पहले तो मुझे ऐसा लगता था कि वो बहुत अच्छा है, लेकिन वो बस पूर्वी के पैसो के लिए ही उसके साथ था और उसके साथ सेक्स करने के लिए भी, लेकिन पूर्वी उसे अपने साथ ऐसा कुछ भी नहीं करने देती थी। तो यह कॉलेज की बात है जब हम कॉलेज में थे, तब एक दिन में पूर्वी से मिला तो मैंने देखा कि वो बहुत परेशान थी, वो बिल्कुल उदास गुमसुम होकर बैठी हुई थी और मेरे बहुत बार पूछने पर भी उसने मुझे कुछ भी नहीं बताया और फिर वो कुछ देर बाद वहां से उठकर चली गई। तो उसके दो दिन बाद उसका मेरे नंबर पर कॉल आया और फिर उसने मुझसे कुछ पैसे उधार माँगे, लेकिन उसके मुझसे उधार माँगे हुए पैसे की राशि बहुत बड़ी थी जो में उसे नहीं दे सकता था इसलिए मैंने उससे पूछा कि उसको इतने पैसों की क्या जरूरत है, लेकीन वो फिर भी चुप रही और वो राशि थी 4 लाख रुपये। तो दो दिन के बाद वो मुझसे कॉलेज में मिली और वो मुझसे पूछने लगी कि क्या कोई हमे ब्याज पर पैसे देगा या नहीं? तो मैंने उससे फिर से पूछा कि तुम्हे इतने पैसे क्यों चाहिए? तब उसने बहुत उदास होकर एकदम धीरे से मुझे बताया कि मेरे बॉयफ्रेंड ने 11 लाख में एक फ्लेट ले लिया है।

फिर मैंने पूछा कि तो तेरा 4 लाख में क्या होगा? फिर उसने मुझे बताया कि मैंने अपने घर से मेरी सारी ज्वैलरी चुराकर भी उसे दे दिया है और उसने उन सबको बेचकर 3 लाख रुपये पेमेंट भी कर दिया है, लेकिन अभी और बाकी 4 लाख रुपय उसे देने है। तो मैंने कहा कि फिर तो तुम्हे कोई भी बैंक लोन दे देगा, लेकिन तभी थोड़े ही दिन के बाद में पूर्वी ने मुझसे कहा कि उसके पास पैसे का इंतज़ाम हो गया है और अब सब काम ठीक हो जाएगा। फिर मैंने पूछा कि इतना पैसे तुम्हारे पास कहाँ से आया? तो उसने मुझे बताया कि उसको यह पैसा उसके किसी दोस्त ने दिया है, लेकिन अब मेरे दिमाग में बहुत सारे सवाल आने लगे कि उसको इतना पैसे कौन दे सकता है? क्या उसने फिर से कोई गलत काम तो नहीं किया या वो कोई गलत काम तो नहीं करने वाली? तो थोड़े दिन के बाद पूर्वी ने अचानक से कॉलेज में आना बंद कर दिया और इस बीच जब भी मैंने उसको फोन किया तो उसका मोबाईल भी स्विच ऑफ बता रहा था। तभी में एक दिन अपनी कार से अपने कॉलेज जा रहा था तो मुझे पूर्वी दो लड़को के साथ कार में बैठकर जाती हुई नजर आई, मैंने उसे देख लिया था, लेकिन उसने मुझे नहीं देखा था और में भी उनके पीछे पीछे चलने लगा। तो वो दोनों कुछ किलोमीटर चलने के बाद पूर्वी को लेकर एक फार्महाउस पर पहुंचे और में अपनी कार को रोड पर पार्क करके फार्म के पीछे तक पहुंचा और वहीं से में अंदर की तरफ कूद गया और फिर कमरे के अंदर झाँकने लगा। तभी वो लोग भी रूम में आ गये और पूर्वी से कहने लगे कि चल अब जल्दी से अपने कपड़े उतार।

पूर्वी : प्लीज आप लोग मुझे जाने दो, में कहीं से भी आपके पूरे पैसों का इंतजाम कर दूँगी।

पहला लड़का : तू अब क्या इंतजाम करेगी? हमने तेरे बॉयफ्रेंड को कल तक का टाइम दिया था, लेकिन उसने हमे हमारा पैसा ठीक समय पर नहीं दिया और उसकी हम लोगों से डील यही थी कि अगर में ठीक समय पर पैसे ना दे सका तो मेरी गर्लफ्रेंड तुम्हारी।

दूसरा लड़का : चल अब ज्यादा नाटक मत कर और चुपचाप जल्दी से अपने कपड़े उतार वर्ना हम फाड़ देंगे।

फिर उसने उससे ऐसा कहकर पूर्वी को अपनी बाहों में ले लिया और उसको किस करने लगा और फिर बेड पर ले गया और उन दोनों ने अपने कपड़े उतार दिए, लेकिन पूर्वी साफ मना कर रही थी और में देखकर बहुत खुश हो रहा था कि आवाज से सती सावित्री दिखने वाली की आज चुदाई पक्की है और उतने में एक लड़का पूर्वी की जीन्स उतारने लगा और दूसरा ज़बरदस्ती अपने लंड को उसके मुहं में डालने लगा, लेकिन पूर्वी अब कुछ नहीं कर रही थी और वो हिल भी नहीं रही थी वो बस बिल्कुल लाचार बेड पर पड़ी हुई थी और उन लोगो ने जल्दी से उसके सारे कपड़े उतार दिए और अब पहला लड़का पूर्वी की चूत की नाजुक नाजुक पंखड़ियों को अपने एक हाथ से फैलाकर पर अपने लंड को चूत के मुहं पर घिस रहा था तो पूर्वी बोली कि नहीं प्लीज मुझे जाने दो, मैंने यह सब पहले कभी भी नहीं किया, प्लीज मुझे छोड़ दो में तुम्हे तुम्हारा पैसे लोटा दूंगी, लेकिन प्लीज अभी मुझे जाने दो छोड़ दो मुझे। फिर वो मुस्कुराया और बोला कि अच्छा तो अब तक तुम्हारी चूत एकदम कुँवारी है? तो कोई बात नहीं आज में उसे फाड़ देता हूँ वैसे भी मैंने इससे पहले बहुत बार कुँवारी चूत को फाड़ा है और उसने बातों ही बातों में अचानक से एक ही झटके में अपना आधा लंड उसकी चूत में डाल दिया और जिसकी वजह से पूर्वी के मुहं से बहुत ज़ोर से चीख निकलने लगी। वो ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगी और अपने चूतड़ को पीछे की तरफ हटाकर लंड को बाहर निकालने की कोशिश करने लगी, लेकिन तभी दूसरे लड़के ने उसके मुहं में अपना लंड डाल दिया जिसकी वजह से उसकी आवाज दबकर रह गई, लेकिन अभी भी पूर्वी रो रही थी और दर्द से तड़प रही थी। उसकी आवाज उसके मुहं से बाहर नहीं आ सकती थी, लेकिन उसकी आँखों से बहते आंसू रुक नहीं रहे थे। वो दर्द से छटपटा रही थी और अब बेड पर उसकी चूत का खून फैला हुआ था। शायद अब पूर्वी की सिल टूट चुकी थी। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर कुछ देर रुकने के बाद जब वो थोड़ा शांत हुई तो उसने धीरे धीरे लगातार झटके मारने शुरू किए, जिसकी वजह से पूरे रूम में फच फच की आवाज़ आ रही थी और अब वो दूसरा लड़का पूर्वी की गांड में अपना लंड डालने लगा और उन दोनों ने मिलकर पूर्वी की गांड और चूत को फाड़ दिया। वो उसके बूब्स को भी मसल रहे थे और कुछ देर के बाद उन्होंने अपनी अपनी चुदाई की स्पीड को बड़ा दिया। फिर पूर्वी ने अब उनका विरोध करना बंद कर दिया और अब उसे भी अपनी चुदाई में मज़ा आने लगा था और वो भी अपनी चुदाई के मज़े लेने लगी, वो हल्की हल्की आवाज से मोन करने लगी और उनके हर एक धक्के से उसके पूरे जिस्म के साथ साथ बेड तक हिलने लगा था। उसकी सिसकियों की आवाज पूरे कमरे में गूंजने लगी थी। फिर कुछ देर बाद वो दोनों एक एक करके पूर्वी के अंदर ही झड़ गये और थककर उसके पास लेट गये और उन दोनों ने उस दिन थोड़ी थोड़ी देर का आराम करके उस दिन पूर्वी की 4-5 बार बहुत जमकर चुदाई की और दूसरे दिन फिर से आने को कहा और वो दोनों पूर्वी को कॉलेज के पास तक छोड़कर चले गये। फिर पूर्वी उनकी गाड़ी से उतरकर अपने घर जाने के लिए ऑटो के पास जा रही थी, लेकिन उससे अब ठीक तरह से चला भी नहीं जा रहा था। फिर में पूर्वी के पास अपनी कार लेकर गया और उसे बैठने को कहा और फिर पूर्वी ने कार में बैठते ही मुझे हग कर लिया और रोने लगी। फिर मेरे उसके रोने का कारण पूछने पर उसने मुझे बताया कि उसके बॉयफ्रेंड ने उन लोगों से कुछ पैसे उधार लिए थे और उस वजह से उसके बॉयफ्रेंड ने उसे उनके पास गिरवी रख दिया और वो मुझसे कह रही थी कि वो लोग मुझे अब हर रोज बुलाने वाले है। तो मैंने बिल्कुल अंजान बनते हुए उससे पूछा कि वो लोग तुम्हे कहाँ पर बुलाने वाले है? तो वो बोली कि वो लोग मुझे अपने फार्म हाउस पर बुलाते है। फिर मैंने एक बार फिर से एकदम अंजान बनते हुए पूछा कि लेकिन वहां पर क्यों? तो वो कुछ नहीं बोली और ज़ोर ज़ोर से रोने लगी तो में बोला कि कल तुम मुझसे कॉलेज में मिलना और में वहां पर तुम्हे पैसे दे दूंगा और में पिछले एक दो दिन से बाहर गया हुआ था और मैंने उसको उसके घर के बार छोड़ दिया। वो धीरे धीरे चलती हुई अपने घर के अंदर चली गई और में उसे वहीं पर खड़ा देख रहा था। उनकी उस चुदाई ने उसकी चाल को ही बदलकर रख दिया।

तो अगले दिन वो मुझसे मिलने आई और मैंने उसको 4 लाख रुपये दे दिए और कहा कि तुम यह पैसे उन्हे दे देना और फिर हम बाहर आ गए। मैंने वो पैसे उसके हाथ में दे दिए। फिर उसी शाम को उसके बॉयफ्रेंड का कॉल आया, लेकिन उसने उससे ज्यादा बात नहीं की। फिर कॉलेज के बाद में उसे उसके घर पर छोड़ने जा रह था तो पूर्वी ने उसके बॉयफ्रेंड को फोन करके बहुत देर तक गलियां दी और फिर उससे अपना ब्रेकअप कर लिया और फिर वो मुझसे बोली कि क्या तुम मेरे साथ फिल्म देखने चलोगे? तो मैंने झट से हाँ कर दिया और दूसरे दिन हम दोनों कॉलेज से बंक करके फिल्म देखने चले गये, फिल्म देखने के बाद हम दोनों ने बाहर ही एक रेस्टोरेंट में खाना खाया और उसने मुझे वहीं पर प्रोपज किया, लेकिन मैंने कहा कि में तुम्हे थोड़ा सोचकर बताऊंगा। फिर दूसरे दिन मैंने कहा कि हम कहीं बाहर घूमने चलते है तो उसने मुझे हाँ कहा फिर में उसको लेकर आबू घूमने गया और वहां पर जाकर मैंने उससे हाँ कहा। मैंने वहां पर एक होटल में हमारे लिए दो कमरे बुक करवाए थे, लेकिन पूर्वी बोली कि हम दोनों एक ही रूम में रहते है ना, उसमे क्या दिक्कत है?

फिर हम दोनों एक ही रूम में गये, वो बेड पर जाकर बैठ गई, लेकिन अब वो मुझसे थोड़ा सा शरमा रही थी। तो मैंने एक अच्छा मौका देखकर उसे पीछे से पकड़ लिया और उसे गर्दन पर किस करने लगा। तो मेरे थोड़ी देर किस करने की वजह से वो बिल्कुल गरम हो गयी और अब वो मोन करने लगी। फिर मैंने उसको नीचे लेटाया और पहले कपड़ो के ऊपर से ही उसके बूब्स दबाए, मसले और उसके बाद सही मौका देखकर एक एक करके उसके सारे कपड़े उतार दिए और साथ में अपने भी और उसके बाद मैंने उसके बूब्स को चूसना, चूमना शुरू किया जिसकी वजह से उसकी चूत ने गरम होकर मुझे उसकी चुदाई करने के लिए मजबूर किया। फिर मैंने उसकी चूत को कुछ देर चाटकर, चूसकर एक बार झड़ने पर मजबूर कर दिया और वो मेरे मुहं में झड़ गई और में उसकी चूत रस पी गया। फिर वो कहने लगी अह्ह्ह्हह्ह्ह्ह हाँ और ज़ोर से हाँ प्लीज आईईईईईईई थोड़ा और अंदर डाल दो हाँ और ज़ोर से अह्ह्ह्ह। फिर मैंने भी कुछ देर चूसने के बाद अपना लंड उस कामुक चूत के मुहं पर रखा और एक ही जोरदार धक्के के साथ चूत के अंदर पहुंचा दिया। फिर वो ज़ोर से चीखने लगी अह्ह्ह्ह थोड़ा धीरे करो उह्ह्ह प्लीज आईईईइ मुझे बहुत दर्द हो रहा है, तुम्हारा लंड बहुत मोटा है, प्लीज मेरी चूत पर आऊऊऊउ थोड़ा तो तरस खाओ। फिर मैंने अपनी चुदाई को धीरे धीरे धक्कों के साथ लगातार जारी रखा और करीब बीस मिनट की चुदाई के बाद में उसकी चूत में झड़ गया और उसके बूब्स को सहलाने, मसलने लगा। फिर उस दिन मैंने उसको वहीं पर दो बार चोदा। दोस्तों में आज तक उसकी चुदाई करता आ रहा हूँ ।।

धन्यवाद …