Home / रिश्तों में चुदाई / माँ का टूरिज्म बिजनस

माँ का टूरिज्म बिजनस

प्रेषक : मिली

हाय फ्रेंड्स मेरा नाम मिली है इस साइट पर मेरी यह फर्स्ट स्टोरी है और मे गोवा से हूँ मे दो साल से इस साइट की स्टोरियाँ पढ़ रही हूँ मुझे स्टोरी बहुत अच्छी लगती है आज मे अपनी पहली स्टोरी लिख रही हूँ जो रियल स्टोरी है यह मेरी माँ के बारे मे है मेरा साइज़ अब 36-30-36 है और मे बहुत सेक्सी और रंडी जेसी दिखती हूँ ऐसा मेरी माँ मुझे कहती है वो खुद भी एक बहुत चुदकड रंडी है जो रोज लंड लिये बिना नही रह सकती उसका साइज़ थोड़ा बड़ा है 38-32-38 है ओर उसकी उम्र 38 साल है उसकी गांड बहुत मोटी और सेक्सी है.

कोई भी मर्द उसको एक बार देख ले तो वो उसकी चुदाई के सपने मे खो जाता है अब मे स्टोरी पर आती हूँ मे यहा गोवा मे मेरी मम्मी और पापा के साथ रहती हूँ मे कॉलेज मे पढ़ रही हूँ   आप सब को तो पता है की यहा गोवा मे सब काम टूरिज्म पर चलता है मेरे पापा एक केरियर शिप मे जॉब करते है तो वो ज़्यादा टाइम आउट ऑफ कंट्री होते है मे और मेरी माँ घर पर  अकेली रहती है जब मे प्राइमरी स्कूल मे पढ़ती थी तब एक बार मे जल्दी घर आ गयी मेने डोर बेल बजाई तो मेरी माँ एक अंकल के साथ घर मे थी जेसे ही मे घर मे गयी वो अंकल चले गये मेने देखा की माँ थोड़ी डरी हुई थी और रात मे मुझे समझा रही थी की वो अंकल फोन रिपेयर करने के लिये आये थे पर फोन तो चालू ही था तो केसे वो रिपेयर करने के लिये आये पर मेने ज्यादा ध्यान नही दिया.

उस दिन मुझे सब नॉर्मल लगा तीन चार दिन बाद एक दिन स्कूल से घर आई और बाथरूम मे गयी तो मेने बाथरूम मे कन्डोम देखा जो मेरी मम्मी की पेंटी और ब्रा के पास पड़ा था मेने पहले भी कई बार कन्डोम के बारे मे मेरी फ्रेंड्स से बात की थी तो मेने उसको देखा तो उसमे वीर्य लगा हुआ था मेने कभी पहले वीर्य नही देखा था पर बाते बहुत सुनी थी उस दिन मुझे यकीन हो गया की मेरी माँ किसी से तो चुदवाती है उस टाइम पर मे 19 साल की थी तब से मे माँ की जासूसी करने लगी एक दिन मेने स्कूल से छुट्टी कर ली और पास वाले घर मे छुप के देखने लगी.

थोड़ी देर बाद मेने माँ के बेडरूम मे देखा तो वो फोन पर किसी से बात कर रही थी वो बोल रही थी की कितने गेस्ट है और कितना टाइम चाहिये? थोड़ी देर बाद बोली ओके दो है तो मेरा एड्रेस दे दो और 5000 रुपये तुम ही ले लेना और शाम के 4 बजे तक का टाइम देना क्योकी 5 बजे मेरी लड़की आ जाती है अब वो बड़ी हो गयी है तो सब समझ जाती है फिर उसने फोन रख दिया करीब 30 मिनिट के बाद वो दो आदमी आये उनकी उम्र 40 साल के करीब होगी और मेरे घर मे गये तब मुझे पूरा यकीन हो गया की मेरी माँ रंडी है और पर्यटको से पैसे लेकर चुदाई करती है जब घर का डोर बन्द हो गया तो फिर मे बेडरूम की खिड़की के पास आ गयी और एक होल से अंदर देखने लगी मेने देखा की माँ ने पहले दोनो को सोफे पर बिठाया और पानी दिया फिर उनके साथ बाते करने लगी.

तब मुझे पहली बार पता चला की मेरी माँ चुदाई मे कितनी प्रोफेशनल है वो दोनो के साथ बात कर रही थी उसमे एक का नाम शेखर था और दूसरे का राजेश उस टाइम मेरी माँ एक पेंट और स्लीवलेस टी शर्ट मे थी और वो दोनो जीन्स और टी शर्ट मे थे माँ के बाल खुले थे और उसने अपनी दोनो हाथ पर वेक्स किया हुआ था वो बड़ी चिकनी और चुदकड़ रंडी जेसी दिखती थी मेने देखा की राजेश अपना लंड पेंट के उपर से सहला रहा था तब शेखर ने माँ को सोफे पर बुलाया जेसे ही माँ सोफे पर बेठी शेखर ने माँ को अपनी गोद मे बिठा लिया और उसके बूब्स को टी शर्ट के उपर से ही दबाने लगा माँ अपने पूरे मूड मे दिख रही थी और वो दोनो भी माँ को चोदने के लिये बेताब लग रहे थे.

तब राजेश खड़ा हुआ और उसने माँ का हाफ पेंट एक ही झटके मे निकाल दिया अब माँ की वाइट पेंटी साफ दिख रही थी फिर उसने माँ का टी शर्ट और ब्रा भी निकाल दिया अब माँ के बड़े बड़े बूब्स उन दोनो के सामने थे राजेश ने माँ के दोनो बूब्स को प्रेस किया और एक निपल को मुँह मे लिया और दूसरे को प्रेस करने लगा फिर माँ खड़ी हो कर बेड पर आ गयी और वो दोनो भी नंगे हो गये अब सिर्फ़ माँ ने पेंटी पहन रखी थी जो की राजेश ने निकाल दी मेने देखा की दोनो के लंड बहुत बड़े थे शायद 10 या 11 इंच के होंगे राजेश ने माँ के मुँह मे अपना लंड दिया पहले तो माँ उसके लंड पर किस कर रही थी थोड़ी देर बाद माँ ने थोड़ा सा मुँह मे लिया और दूसरा माँ की चूत चाट रहा था.

माँ की चूत बहुत ही चिकनी और सेक्सी लग रही थी उसने बाल शेव किये थे जिसके कारण चूत एक कुँवारी लड़की जितनी मस्त लग रही थी अब माँ पूरी मस्ती मे थी और पूरा लंड मुँह मे लेने की कोशिश कर रही थी पर राजेश का इतना बड़ा था की शायद माँ के लिये पूरा लेना मुमकिन नही था तब उसने माँ के बाल पकड़ के अपने लंड को पूरी ज़ोर के साथ माँ के मुँह मे डाल दिया और माँ के गले तक डाल दिया माँ को अब सांस लेने मे बड़ी तकलीफ़ हो रही थी एक मिनिट के बाद जब उसने बाहर निकाला तो माँ ज़ोर ज़ोर से सांस लेने लगी और खांसने लगी तब दूसरे ने कहा साली रंडी ये क्या कर रही है कभी मुँह मे नही लिया क्या अभी तो शुरुवात है तो आगे तेरा क्या होगा चाट फिर से ले तब माँ ने कहा सॉरी तब उसने फिर से मुँह मे ज़ोर से डाल दिया माँ की आँख से पानी निकल रहा था और दूसरा अपनी तीन उंगली माँ की चूत मे ज़ोर से डाल रहा था.

जब उसने माँ के मुँह से लंड निकाला तब माँ बहुत खांसी अब सब मस्ती मे थे फिर एक आदमी जो माँ की चूत मार रहा था वो सोफे पर बेठ गया और माँ को कुत्तिया बना के मुँह मे लंड दे दिया और दूसरे ने माँ की चूत पर अपना 10 इंच का लंड टीकाया और ज़ोर से रगड़ा फिर उसने एक ज़ोर का झटका मारा तो आधा लंड माँ की चूत मे चला गया माँ ज़ोर से चिल्लाने लगी वो बोल रही थी थोड़ा प्यार से डालो मेरी चूत फट जायेगी तब दूसरा बोला साली रंडी की औलाद तेरी चूत फाड़ने के ही तो पैसे दिये है चुप कर रंडी आज तेरा सब फटने वाला है   माँ चुप हो गयी तभी दूसरे ने ज़ोर से पूरा मुँह मे दे दिया तो माँ आाअ आयाआा आआआ करती रही तीन चार झटके देने के बाद एक ज़ोर का झटका दिया तो माँ की आँख से पानी निकलने लगा क्योकी उसकी चूत मे अब 10 इंच का लंड पूरा चला गया था.

थोड़ी देर के बाद माँ रिलेक्स हो गयी और मज़े लेने लगी अब माँ ज़ोर से अपनी गांड आगे पीछे करके चुदवा रही थी और बोल रही थी फुक मी हार्ड मे आज तुम्हारी रंडी हूँ बहुत चोदो मुझे फाड़ दो मेरी चूत को ज़ोर से ओर सिसिसिसी चोदो  आ थोड़ी देर तक जोरदार चुदाई होती रही और फिर माँ झड़ गयी उसके बाद राजेश ने 20 मिनिट तक माँ की चूत की चुदाई की फिर उसने अपना पानी माँ की चूत मे गिरा दिया फिर दूसरे ने माँ को बेड पर कुत्तिया बना कर फिर से चुदाई शुरू की अब तक माँ 5 बार झड़ चुकी थी और पूरी तरह से थक चुकी थी और बोल रही थी प्लीज मुझे अब छोड़ दो मे खलाश हो चुकी हूँ मेरे मे अब हिम्मत नही है प्लीज़ वो आदमी बोला क्यों रंडी थोड़ी देर पहले तो बड़ी चुदकड़ हो रही थी.

अब क्या हुआ फट गयी तुम्हारी अभी तो पूरा दिन बाकी है और वो पूरे ज़ोर से माँ की चूत    बजा रहा था चूत मेरे सामने थी मे देख रही थी की माँ की चूत से बहुत पानी निकल रहा है   वो आदमी बड़े ज़ोर से माँ की चूंची दबा रहा था अब चूंची भी लाल हो गयी थी और माँ की चूत भी लाल हो गयी थी 30 मिनिट तक जोरदार चुदाई के बाद वो आदमी माँ की चूत मे झड़ गया अब माँ बेड पर लेटी थी पास मे शेखर भी लेटा था थोड़ी देर बाद माँ बाथरूम मे चली गयी और फ्रेश होकर वापस आई तब उसने कपड़े चेंज कर दिये थे अब वो फिर से तैयार लग रही थी उस दिन माँ की 8 बार चुदाई मेने देखी और शाम 4 बजे वो दोनो घर से निकल गये जब मे 5 बजे घर वापस आई तो सब नॉर्मल था माँ बहुत थकी हुई थी और अपने बेडरूम मे सो रही थी.

धन्यवाद …