Home / भाभी की चुदाई / दुकान वाली भाभी 1

दुकान वाली भाभी 1

प्रेषक : सेंडी

हाय दोस्तो मेंरा नाम सेंडी है में मुंबई (दादर) से हूँ और मेरी उम्र 20 साल है ये स्टोरी आज से 3 महीने पुरानी है मेरे घर के पास एक भाभी रहती है उनकेएक छोटी सी दुकान है उनका नाम मंजू है उनकी उम्र 32 साल होगी और मस्त फिगर है बड़े बड़े बूब्स है और गांड तो कमाल की है जब भी वो चलती है तो सबका लंड खड़ा हो जाता है उनके घर मे उनके पति जो एक कंपनी मे वर्कर है तो रात मे लेट आते है और छोटा लड़का है 4th मे पढ़ता है बुधवार का दिन था मे सुबह उनकी दुकान पर सामान लेने गया तो भाभी कपड़े धो रही थी और वो भीगी हुई थी जब मे उनके यहा गया तो उनकी साड़ी का पल्लू नीचे था ओर उन्होंने अन्दर कुछ नही पहना था तो उनके बूब्स दिख रहे थे मे उन्हे ही देख रहा था तब भाभी बोली क्या चाहिये सेंडी?” मे होश मे आया और बोला  बिस्किट लिया और जाने लगा पर मेरे दिमाग़ मे तो भाभी ही थी और मे कॉलेज चला गया मेरे पूरा ध्यान उनके यहा था.

मे जब दोपहर को घर आया और चेंज करके खेलने जाने ही वाला था की भाभी ने रोक लिया और बुलाया और बोला मेरा एक काम करोगे क्या?”पंखा चल नही रहा है?” तो मेने हाँ कहा और उनके घर चला गया मे पंखा देखने के लिये स्टूल पर चड़ा और भाभी नीचे थी पंखे की वायर निकली थी मेने नीचे भाभी की तरफ़ देखा तो उपर से उनके बड़े बड़े बूब्स दिख रहे थे मे थोड़ी देर तक चोर नज़रो से देख रहा था फिर कुछ देर बाद मेने पंखा ठीक किया और नीचे उतरा और घर जाने लगा तो भाभी ने मुझे रोका और कहा की अगर कुछ काम नही है तो मेरे साथ टाइम पास करो.

मे तो मन ही मन खुश हुआ और झट से हाँ कहा और भाभी कोपानी माँगा जब भाभी पानी लेने चली गई तो उनकी गांड हिल रही थी मेरा लंड तो खड़ा हो गया भाभी जब मुझे पानी देने झुकी तो उनका पल्लू नीचे गिर गया और उनके बूब्स के दर्शन हो गये ऐसा लग रहा था की वो अभी गिर जायेगे तो उन्होने मुझे देख लिया पर कुछ नही बोली और हमारे लिये चाय बनाने चली गई मे दुकान में ही बेठा था दोपहर को ज्यादा लोग नही आते थे.

जब भाभी चाय देने झुकी फिर से उनका पल्लू नीचे गिरा पर इस बार भाभी ने जानबूझ कर गिराया और उनके ब्लाउज का उपर वाला बटन खोल रखा था अब मेरी हालत खराबहो गई थी भाभी ने मुझे चाय देते समय मेरी और देखा और एक सेक्सी स्माइल दी और अपना निचला होठ दांतों मे दबाते हुये खड़ी हो गई कुछ देर तक हम ऐसे ही बाते कर रहे थे मेरी चाय ख़त्म हो गई और मे जाने के लिये खड़ा हो गया तब भाभी बोली की कोई ज़रूरी काम नही है तो रुक जाओ मेरे साथ बाते करो?” और कहते ही चाय का कप उठाने के किये ऐसे झुकी की उनकी गांड मेरे लंड पर टच हो रही थी और रग़ड रही थी.

मेरा लंड तो पहले से ही खड़ा था अब पूरे जोश मे आ गया था भाभी कुछ देर ऐसे ही झुकी और सस्स्स्स्सस्सअयाया की सिसकारी करते उठ गई और फिर से एक स्माइल दी और चाय के कप रखने चली गई मे मन ही मन खुश हो गया और समझ गया की भाभी को चुदाई करने का मन कर रहा है तो क्यों ना मोके का फायदा उठाया जाये भाभी आई और मुझसे बाते करने लगी सेंडी तुम्हे गर्ल्स पसंद है या बड़ी उम्र की औरते?”मे ये सुनते ही हैरान हो गया और उनकी ओर देखने लगा फिर भाभी ने मुझे पूछा अरे क्या हुआ जवाब दो ना?”

मे : मुझे बड़ी उम्र की औरते पसंद है.

भाभी : क्यों क्या होता है उनमे.

मे : वो एक्सपीरियन्स होती है.

भाभी : कोन सा एक्सपीरियन्स सेक्स का.

मे : हाँ उनके साथ सेक्स करने मे ज्यादा मज़ा आता है.

भाभी : मे तुम्हे केसी लगती हूँ कह के मुझ से चिपक के खड़ी हो गई.

मे : बहुत अच्छी सेक्सी लगती हो.

भाभी : मुझमे क्या अच्छा लगता है  कह के मेरे लंड को अपने हाथ से पेन्ट के उपर से सहलाने लगी.

मे :  आपके बूब्स और मोटी गांड कह कर मेने उनके बूब्स पर हाथ रखा और दबाने लगा भाभी और मुझसे चिपक कर खड़ी हो गई और बोली की तुम मेरे साथ सेक्स करोगे ये कहते ही मे खुश हो गया और उनके बूब्स को दबाने लगा और भाभी ने मेरी पेन्ट के अन्दर हाथ डालकर लंड को सहलाने लगी मे अब उनको किस करने लगा भाभी भी मुझे रेस्पोंस दे रही थी और हम करीब 10 मिनिट तक किस कर रहे थे फिर मे किस करते करते नीचे उनके बूब्स पर आ गया और ब्लाउज के उपर से ही उनके बूब्स को चूसने लगा.

कुछ देर बाद मेने उनका ब्लाउज निकाल डाला अब भाभी मेरे सामने उपर से नंगी थी और मे उनकी चूचियों को देखता ही रहा गया तो भाभी बोली की सिर्फ़ देखेगा या फिर इने चूसेगा भी  कहते ही मेरा सर अपने बूब्स पर लगाया मे उनके बूब्स को ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा और मसलने लगा तो भाभी बोल रही थी आहह और चूस्स्स्स जोर से दबा इन्हे ससस्स ऊऊओ एम्म्म” इस तरफ़ की आवाजे कर रही थी और मुझे और जोश आ रहा था फिर मेने 5 मिनिट के बाद उनकी साड़ी निकाल दी और पेटीकोट भी निकाल डाला अब भाभी मेरे सामने पूरी नंगी थी फिर भाभी ने मुझे नंगा किया और मेरे लंड को अपने मुँह मे लेकर चूसने लगी मुझे ऐसा मज़ा आ रहा था की जेसे मे जन्नत मे हूँ और मे “आआआअ मुऊऊुऊऊउउ” की आवाज़ निकाल रहा था.

5 मिनिट तक भाभी मेरे लंड को चूस रही थी और मे झड़ने वाला था तो भाभी बोली की मेरे मुँह मे ही झड़ जा मुझे तेरा पानी चखना है कहते ही जोर से मेरे लंड को चूसने लगी और मे ज़ोर ज़ोर से उनके मुँह को चोदने लगा और एक जोरदार पिचकारी मेने उनके मुँह मे छोड़ दी वो पूरा का पूरा पी गई और बेड पर लेट गई और अपनी चूत के उपर हाथ फेरने लगी तो मे समझ गया की अब मेरी बारी है तो मेने झट से उनकी चूत पर अपना मुँह रख दिया और उनके दाने को चूसने लगा भाभी पहली बार चूत चूसवा रही थी  अआह्ह्ह चूस और् जोर से चूस बहुत मज्ज़ज़ज्जा आआआअ रहा है मुझे चूत चूसवाने में चूत को खा जा इसे ऐसे बड़बड़ा रही थी और 5 मिनिट मे ही वो झड़ने वाली थी  चूस और जोर से मेरे राजा मेरा होने वाला है चूस आआआअ में तो गई  कहते ही मेरे मुँह पर ढेर सारा उनका पानी छोड़ दिया और मे उसे चाटने लगा.

 

आज मेरी इच्छा पूरी हो गई है सेंडी तेरे भैया कभी भी मुझे लंड चूसने को नही देते है कहते ही भाभी मेरे लंड को फिर से सहलाने लगी और मे उनके बूब्स को दबाने लगा कुछ देर बाद हम 69 पोज़िशन मे आ गये और अब भाभी बोली सेंडी अब नही सहा जाता अब चोद दे मुझे और मिटा दे इस चूत की सारी गर्मी  कहते ही झट लेट गई और मुझे अपने उपर खीचा और मेरे लंड को अपने हाथो से अपनी चूत पर रखा मे लंड को उनकी चूत के दरवाजे पर रगड़ने लगा तो भाभी तड़प रही थी और बोल रही थी  क्यों तडपा रहा है मुझे अब मुझसे सहन नही होता घुसेड दे तेरे लंड को और मुझे अपने उपर खीचा और किस करने लगी भाभी पूरी गर्म हो गई थी तो मेने अपने लंड को उनकी चूत पर रखा और एक झटका मारा तो मेरा पूरा का पूरा लंड उनकी चूत मे चला गया और भाभी “आआआआआअ आअराअम सीस्स्स्स डाल ना बहुत दिन से नही लिया है इसने किसी जवान लंड को और मुझे जोर जोर से क़िस कर रही थी.

मे कुछ देर तक धीरे से चोद रहा था और उनके बूब्स को दबा रहा था भाभी और जोश मे आ गई और गांड उठा उठा कर चुदवा रही थी और बोली और जोर से धक्का मार फ़ाड डाल मेरी चूत को क्यों मस्त चोदता है तू ऊऊऊ दे धक्का मिटा दे मेरी खुजली आज से में तेरी रांड बन गई और मुझे ज़ोर ज़ोर से चोदने को बोल रही थी कुछ देर मे ही भाभी झड़ गई और मेरा अभी बाकी था तो भाभी पूरी थक गई थी तो मेने भाभी को घोड़ी बनने कहा और उनकी गांड पर लंड रग़डने लगा भाभी बोली  की अब गांड फाड़ेगा मेरी.

मे : हाँ मेरी रांड अब मे तुझे रोज चोदूंगा और तेरी गांड भी मारूंगा.

मुझे तेरी गांड बहुत पसंद है  कहते ही मैने ज़ोर का शॉट मारा तो मेरा आधा लंड उनकी गांड मे चला गया तो भाभी चिल्लाई  हरामी फ़ाड दी मेरी गांड मुझे नहीं मरवानी गांड निकाल इसे बाहर में मर जाऊंगी कुछ देर मे ऐसे ही उनके उपर झुका रहा और उनको किस कर रहा था और बूब्स  को दबा रहा था फिर 5 मिनिट के बाद भाभी खुद ही अपनी गांड आगे पीछे करने लगी और मुझे धक्का देने को कहा अब मे पूरे जोश मे उनकी गांड को चोदने लगा और भाभी मुझे  रेस्पोन्स दे ही थी और उछल उछल के बोल रही थी मार और जोर से मार बहुत मज़ा आता है रे गांड मरवाने में तेरे भैया को तो बस चूत ही चाहिये हाँ और जोर से हाँ मार मादरचोद जोर से मार.

कुछ देर मे ही वो झड़ गई अब मे भी झड़ने करीब था तो मेने उन्हे पूछा की कहा निकालू तो वो बोली मेरे मुँह मे ही झड़ जा तेरा पानी तो बहुत मस्त है और वो मेरे लंड को चूसने लगी करीब 5 मिनिट के बाद मे झड़ गया और वो सारा पानी पी गई और चाट के मेरे लंड को साफ कर दिया भाभी बोली आज तक मे इतनी अच्छे से चुदी नही थी मज़ा आ गया कहा से सीखा ये सब मे बोला मे बी.एफ देखता हूँ और सेक्सी कहानियां भी पढ़ता हूँ इससे मुझे चोदने के तरीके और कैसे ओरत को सॅटिस्फाइड करना है समझा उसके बाद मेने कई बार भाभी को चोदा और उनकी माँ को भी चोदा उनके गावं मे जाकर. आगे की स्टोरी अगले पार्ट में.

धन्यवाद …

2 comments

  1. Bhosdike dusri bar job gand mari to kese jhd gi