Home / जवान लड़की / गुड़गाँव की रण्डी

गुड़गाँव की रण्डी

प्रेषक : गुमनाम
हेलो दोस्तों, में 23 साल का सॉफ्टवेयर इंजीनियर हूं और दिल्ली में रहता हूं गुडगाँव में एक सॉफ्टवेयर डेवलपर कम्पनी में जॉब करता हूं l पहले में अपने बारे में कुछ बताना चाहता हूं

 

इस घटना को अभी 2-3 सप्ताह ही हुए होंगे l में ऑफिस से दोपहर 12, 1 बजे मेरे घर आ रहा

था मेरा घर ब्लू लाइन मेंट्रो स्टेशन के पास ही है यह एक सुनसान जेसा है जहा कोई आता जाता नही है स्टेशन के आगे एक रोड है जो अब बंद हैउसके साइड से एक नयी रोड है अब जो चलती हैपरन्तु में पुरानी रोड को उपयोग में लेता हूं क्योंकी बहुत कम भीड़ होती है तो दिन के समय में बाइक पे घर आ रहा था l तो अचानक मेने देखा 3-4 आंटियां एक एक कर के हाथ दिखा के जेसे लिफ्ट मांगते है l मेने सोचा देखे तो सही क्या बोल रही है में उनके पास रुक गया और बोला क्या हुआ, तब मेने सोचा ये आंटीयां नही है इनमें तो एक ही आंटी है और दो लड़कियां तो मेंरी उम्र की ही थी, उनमें से एक ने सुपर टाइट टॉप पहने हुआ था, कुछ ज्यादा ही लिपस्टिक लगा रखा था और दो ने सूट पहना हुआ था, जिसमें से टॉप पार्ट मतलब बोब्स दिख रहे थे और आंटी साधारण कपडे पहने हुए थे.

आंटी: करेगा क्या?.

 

में: क्या बोल रहे हो आंटी?
आंटी: अरे करेगा क्या?
में: क्या करना है?
आंटी: ज्यादा भोला मत बन तुझे पता है क्या बोल रही हू
मेरे तो कुछ समझ में नही आया क्या बोलू मेने पहले घबरा के कह दिया की
में: क्यों टाइम वेस्ट कर रही हो मेरा मुझे कुछ भी नही करना…” और में बाई और से मेरे घर आ गया(जो मेरा दोस्त था शरद वो ऑफिस में ही था) मेने सोचा की एक लड़की को यहा ले आता हू मज़े आएँगेमेने एक पैकिट कोंडम का खरीदा और में वापिस उसी जगह 5 मिनट्स में पहुंच गया और वही रुक गया.

 

में: आंटी रेट क्या है l

 

आंटी: अब आया ना लाइन पे 500 किसी का भी.

 

में: 500 तो ज्यादा है.

 

आंटी: ऐसी चूत कही नही मिलेगी 500 में.

 

में: आंटी देख लो कुछ कम कर दो.

 

आंटी: चल साले बनिए तू 400 दे देना.

 

में: (उस टाइट टॉप वाली को बुलाया ओर उसके बूब टच करके कहने लगा), चल तू आ जा l

 

आंटी: ठीक है, यही करेगा या कही ओर

 

में: मेरा घर है यही पास में
आंटी: लेजा पर आधे पैसे दे दे अभी l

 

 
मेने 200 आंटी को दिए ओर उसे बाइक पे बीटा के ले गयामेने गेट खोला ओर अपने बेडरूम में ले गया,  उसे पानी दिया तो वो बोली जल्दी जल्दी कर टाइम नही है”, मेने उसे बताया ये मेरा पहला टाइम है आराम से करना तो वो हंस के कहने लगी चलो आज मज़ा आएगा. उसने कहा यहाँ आ मेरे कपडे खोल, मेने उसका टॉप उतारा उसके बूब्स क्या दिख रहे थे में क्या बताऊ, उसकी ब्रा गुलाबी कलर कि थी मेने कहा ऐसे बोबे तो मेने आज तक नही देखे, वो कह रही थी तूने फिर देखा ही क्या है आगे आगे देखते जाओ”. और वो मेरे पास आई और उसका हाथ मेरे लंड पर गया, तो वो बोली अरे ये तो अभी से खड़ा हो गया. में हंस के उसके मुह के पास आके उसको किस करने लगा परन्तु उसके मुह से बदबू आ रही थी तो मेने कहा की घोड़े का मुह में लिया है क्या केसी बदबू आ रही है उसने कहा अरे यार ब्रश करने का टाइम ही नही मिला आज.

 

 
में उसको अपने बाथरूम में ले गया और उसे अपने रूम मेंट का ब्रश दिया और कहा ब्रश करले ऐसे मुझसे नही होगा. वो हंस ने लगी और उसके दांतों को साफ करने लगी. मेने उससे कहा कपड़े खोल दोनो नहा लेते हैं, उसने कहा 1 घंटा है तेरे पास,  मेने कहा बहुत है, मेने उसकी ब्रा उतारी और उसने उसकी  जीन्स (एक लड़की की जीन्स को उतारना मेरे लिए हमेंशा की समस्या थी), मेने उसकी पेंटी देखी, उसपे हाथ लगाया वहां थोड़े थोड़े बाल थे परन्तु इतने ज्यादा भी नही थे. मेने उसकी पेंटी उतारी और मेने देखा क्या चूत थी मेरा लोडा आज भी सलाम करता है याद कर-कर के अब वो मेरे सामने नंगी खड़ी थी उसने हंस ते हुए मेंरी शर्ट और जीन्स उतार दी, मेरा लंड इतना कड़क हो गया था की  मेरा अंडरवेर फटने को हो गया था. उसने अंडरवेर के अंदर ही पकड़ा और हिलाया, और फिर थोड़ी देर बाद मेंरी अंडरवेर उतार दी. मेने शवर को चालू किया और उसे किस करने लगा, मुझे बदबू नही आ रही थी अब मुझे कोलगेट की मिंटी खुशबु आ रही थी, मेने उसके बूब्स को भी दबाया मजा आ गया एसा लग रहा था जेसे कोई गुब्बारा हो, बस दबाते जाओ, उसके निप्पेल्स तो थोड़े काले थे पॉर्न में तो पिंक पिंक होते ही है परन्तु फिर भी टाइट हो गये थे, उसने मेरा लंड आगे पीछे करना शुरू कर दिया, मेने उसे चाटना स्टार्ट कर दिया, पहले उसकी गर्दन फिर एक बूब फिर उसकी निपल चाटने लगा. उसकी निपल मेने थोड़ी सी काटी, उसके मुह से निकला आउच!!खाएगा क्या और हंस ने लगी, थोड़ी देर बाद में नीचे उसकी चूत पर आया l क्या बताऊ दोस्तों जिंदगी में पहली बार चूत चाटी है में केसे बताऊ कितना मजा आया मेरा लंड तो पागल ही हो गया, फिर मेने शावर बंद किया और उसको उठाकर बेड पर ले गया और डौगी स्टाइल में उसकी चूत चाटने लगा. फिर वो सेक्सी आवाज निकालने लगी अवववह्म….आह्ह उम्म्म्मम…. . और मेने बोला ये नकली आवाज मत निकाल, कोई जरुरत नही है, तो वो बोली साले ये नकली आवाज नही है कभी किसी की चूत नही चाटी ? आवाजे खुद ही निकलने लगती है पांच मिनट चूत चाटने के बाद मेरे दिमाग में एक आईडिया आया और हम 69 की अवस्था में आ गये l अब वो मेरा लंड चाट रही थी और में उसकी चूत को, जब उसने मेरा लंड मुह में लिया तो कितनी ख़ुशी हुई उसका गरम गरम मुह हाय रे लंड मजा आ गया l फिर मेने कहा करें ? उसने कहा तेरी मर्जी. मेने अपनी जींस की जेब से कॉन्डोम निकाला और उसे दे दिया उसने मेरे लंड पर उसे पहना दिया l मेने उसे किस किया और उसे बेड पर लिटा दिया l मेने उसको देखा और उसके ऊपर लेट गया l फिर मेने अपना लंड उसकी चूत में डाला तो बहुत मजा आया मेने अपने जीवन में जितनी भी बार मुठ मरी थी सब फैल था इसके सामने, मेने उससे कहा केसा लग रहा है, उसने कहा मस्त और मेने जोर के झटके देने चालू कर दिए, वो तो आवाजे निकालने लगी उम्म्मओर ज़ोर से आआआअअबोहोत बाड़ियाउम्म्म…. मेने झटके और तेज कर दिए, फिर में लेट गया और उसको मेरे लंड पर बिठा दिया बहुत अच्छा वो भी मस्त करने लगी थी और मेने दोनों हाथों से उसके बोब्स को पकड़ लिया और उनको ऊपर नीचे – ऊपर नीचे करने लगा, तो उसने कहा ओर कितना करोगे, मेने कहा 23 साल की भड़ास निकालूँगा अभी और मेने उसे कुतिया स्टाइल में लिया और उसकी चूत मारने लगा l

 

 
दोस्तों कुतिया स्टाइल अच्छी पोजीशन है यह सेक्स को और भी सेक्सी बना देता है l फिर मेने उससे कहा की मेरा निकलने वाला है तो उसने कहा तो निकलना फिर मेने उसको सीधा किया और उसके ऊपर लेटके झड गया l मेने कहा केसा लगा, उसने कहा मस्त और हंसने लगी l अभी 10 मिनट बचे थे उसने मेरे कॉन्डोम को हटाया और लंड को साफ किया और बोली बढ़िया लंड है तेरा मेने उसको और उसके बूब्स को किस किया l मेने कहा एक फोटो ले लूँ तेरा नंगे बदन का तो उसने कहा ले ले 10 मिनट है अभी और मेने 5 – 6 फोटो ली और उसने अपनी ड्रेस पहन ली l फिर मेने उसको 300 रू दिया.

 

 
वो हंसने लगी और कहने लगी तो में जाऊ ? या और कुछ मेने कहा चलो में तुम्हे छोड़ आता हूं पास में ही तो है तू रुक. और में हंसने लगा और मेरे ऑफिस का टाइम भी हो गया था l उसको छोड़ के में ऑफिस के लिए निकल गया l तो दोस्तों केसी लगी मेंरी कहानी l

 

 
धन्यवाद